ऐतिहासिक गुरूद्वारा नाका हिण्डोला में संक्रान्ति पर्व पर विशेष दीवान सजाया गया


लखनऊ। 14 मार्च 2021 रविवार को नानकशाही के अनुसार 553वाँ नव वर्ष के आगमन दिवस एवं चैत्र माह संक्रान्ति पर्व पर विशेष दीवान श्री गुरु सिंह सभा ऐतिहासिक गुरूद्वारा नाका हिण्डोला, लखनऊ में सजाया गया।

शाम का विशेष दीवान 06:30 बजे रहिरास साहिब के पाठ से प्रारम्भ हुआ, उसके उपरान्त हजूरी रागी जत्था भाई राजिन्दर सिंह ने अपनी मधुर वाणी में-

            चेत गोबिन्द आराधिअै होवे अनद घणा। 
              संत जना मिलि पाइअै रसना नाम भणा।।

शबद कीर्तन एवं नाम सिमरन द्वारा आई साध संगतों को निहाल किया। उसके उपरान्त ज्ञानी सुखदेव सिंह ने नानकशाही कैलेन्डर 553वें के अनुसार सिख पंथ के नव वर्ष एवं चैत माह संक्रान्ति पर्व पर व्याखयान करते हुए कहा कि इस माह में आनन्द प्राप्त करने के लिए प्रभु की आराधना बहुत जरुरी है। प्रभु भक्ति से ही मनुष्य अपने खोये हुए आनन्द को प्राप्त कर सकता है।

गुरमति संगीत अकेडमी के बच्चों ने भी इस कार्यक्रम में शबद कीर्तन गायन किया।दीवान की समाप्ति के उपरान्त लखनऊ गुरूद्वारा प्रबन्धक कमेटी के अध्यक्ष राजेन्द्र सिंह बग्गा ने आई साध संगतों को नव वर्ष, चैत माह संक्रान्ति पर्व की बधाई दी। उसके उपरान्त गुरू का लंगर एवं मिष्ठान श्रद्धालुओं में वितरित किया गया।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां