योगी सरकार की तानाशाही से आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता डरने वाले नहीं- सभाजीत सिंह

 
लखनऊ। आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने राजधानी के 1090 चौराहे और प्रदेश की अन्य जगहों पर पार्टी कार्यकर्ताओं पर पुलिस के लाठीचार्ज को योगी सरकार की तानाशाही बताया है। सभाजीत सिंह बुधवार को पार्टी कार्यालय पर संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता संघर्षों की उपज हैं। वे योगी सरकार की तानाशाही और लाठी से डरने वाले नहीं हैं।
 
सभाजीत सिंह ने कहा कि दिल्ली की लोकप्रिय केजरीवाल सरकार की शक्तियों पर अंकुश लगाने के लिए केंद्र की भाजपा सरकार ने जनविरोधी बिल लाया है, जबकि केजरीवाल सरकार की शिक्षा, स्वास्थ्य और सुरक्षा संबंधित मॉडल की देश में ही नहीं दुनिया में तारीफ हो रही है। जब इस काले बिल के खिलाफ आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता यूपी में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे तो मुख्यमंत्री योगी उन पर लाठीचार्ज कराने लगे। यह योगी की हताशा है। सभाजीत सिंह ने बताया कि कई जगहों से कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी, उनके ऊपर झूठे मुकदमे और लाठीचार्ज की बात सामने आई है। लखनऊ में ही शहबाज़ जो यूथ विंग के उपाध्यक्ष हैं, उनको पुलिस ने पीटकर बेहोश कर दिया। साथी कार्यकर्ता शाहबाज को सिविल हॉस्पिटल ले गए, जहाँ उनका इलाज हुआ।
 
 
प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने पुलिसिया बर्बरता की कई तस्वीरें भी मीडिया के सामने पेश की। बताया कि आप अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतपाल सलूजा को भी पुलिस ने बहुत पीटा। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में सभाजीत सिंह ने घायल शहबाज़ को भी पेश किया। शहबाज़ ने बताया कि मेरे गले पर लाठी रखकर पुलिसवालों ने तब तक दबाया जब तक मैं बेहोश नहीं हो गया, जबकि हम लोग शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे। महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष नीलम यादव का गला पुरुष पुलिसकर्मी पकड़े है, आप इसे तस्वीरों में देख सकते हैं। कहा कि योगी की लाठी से हम डरने वाले नहीं हैं। वह कोई और रास्ता अख्तियार करें।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां