मुख्य सचिव की अध्यक्षता में प्रोजेक्ट माॅनिटरिंग ग्रुप की बैठक आयोजित

लखनऊ। प्रोजेेक्ट माॅनिटरिंग ग्रुप की बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने काशी विश्वनाथ काॅरीडोर के विकास, मेट्रो परियोजना, नमामि गंगे योजना एवं अमृत योजना की प्रगति की समीक्षा की। काशी विश्वनाथ काॅरीडोर मन्दिर के विस्तारीकरण एवं सौन्दर्यीकरण परियोजना वाराणसी की प्रगति समीक्षा में माह फरवरी, 2021 तक की भौतिक प्रगति 43 प्रतिशत तथा वित्तीय प्रगति 24 प्रतिशत बताई गयी।
 
उक्त परियोजना 15 नवम्बर, 2021 तक पूरी हो जायेगी। परियोजना की कुल लागत 345.27 करोड़ रुपये है। परियोजना के अन्तर्गत मन्दिर परिसर, मन्दिर चैक, यात्री सुविधा केन्द्र, स्प्रिचुअल बुक स्टोर, जलपान केन्द्र, टूरिस्ट फैसिलिटेशन सेन्टर, गेस्ट हाउस, सिटी म्यूजियम, टाॅयलेट ब्लाॅक, मुमुक्षु भवन, दुकानें, नीलकंठ पैवेेलियन, वाराणसी गैलरी, मल्टी परपज हाॅल, सिक्योरिटी आॅफिस, यूटीलिटी ब्लाॅक, गौदौलिया गेट, वैदिक केन्द्र, कल्चरल सेन्टर, आदि के कार्य कराये जा रहे हैं। उक्त सभी कार्य बड़ी तेजी से कराये जा रहे हैं। मुख्य सचिव ने कार्य की प्रगति की सराहना करते हुए निर्धारित समय सारिणी के अनुसार परियोजना को पूर्ण करने के निर्देश दिये।
 
कानपुर मेट्रो परियोजना की समीक्षा में बताया गया कि परियोजना के अन्तर्गत सभी कार्य बड़ी तेजी से कराये जा रहे हैं। एलीवेटेड वाॅयाडक्ट और आईआईटी से मोतीझील के मध्य सभी 09 एलीवेटेड स्टेशन का 70 प्रतिशत कार्य पूरा किया जा चुका है। पाॅलीटेक्निक डिपो के सिविल व ई. एण्ड एम. के 75 प्रतिशत कार्य हो चुके हैं। काॅरीडोर व डिपो में ट्रैक बिछाने का कार्य प्रगति पर है, जिसे 31 अक्टूबर, 2021 तक पूरा कर लिया जायेगा। ट्राॅयल रन 30 नवम्बर, 2021 तक पूरा हो जायेगा। 2204 पाइल्स, 462 पाइल कैप, 453 पियर, 247 पियर कैप, 420 यू गर्डर, 432 डबल टी गर्डर, 2071 लांगीट्यूडिनल बीम, 423 ट्रैक बीम एवं 613 प्लेटफाॅर्म बीम कास्टिंग का कार्य पूरा किया जा चुका है।
 
कानपुर मेट्रो का ट्राॅयल रन 30 नवम्बर, 2021 तक तथा जन सामान्य के लिए 31 जनवरी, 2022 तक प्रारंभ हो जायेगी। कानपुर मेट्रो के समस्त कार्य निर्धारित समय सारिणी के अनुसार निष्पादित हो रहे हैं, मुख्य सचिव ने इस पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए दु्रत गति से अवशेष कार्य पूरा करने के निर्देश दिये। आगरा मेट्रो की समीक्षा में बताया गया कि 249 पाइल्स, 19 पाइल कैप एवं 09 पियर की काॅस्टिंग का कार्य पूरा हो चुका है। मुख्य सचिव ने निर्धारित टाइम लाइन के अनुसार आगरा मेट्रो के समस्त कार्य पूरा करने के निर्देश दिये।
 
नमामि गंगे योजना की समीक्षा में बताया गया कि सीवरेज के कुल 45 प्रोजेक्ट्स में से 16 प्रोजेक्ट्स पूरे किये जा चुके हैं, 24 प्रोजेक्ट्स पर तेजी से कार्य चल रहा है तथा 05 प्रोजेक्ट्स टेण्डर प्रक्रिया में हैं। अमृत योजना में 12562.11 करोड़ रुपये की 289 परियोजनाओं की डीपीआर अनुमोदित की जा चुकी है, जिसके सापेक्ष 11512.78 करोड़ रुपये की 282 परियोजनाओं के लिए शासनादेश निर्गत किये जा चुके हैं। 260 परियोजनाओं के टेण्डर स्वीकृत तथा 16 टेण्डर प्रक्रिया में हैं। रुपये 1669.45 करोड़ रुपये की लागत की 115 कार्य पूरे हो चुके हैं तथा रुपये 8936.74 करोड़ रुपये लागत की 145 कार्य तेजी से किये जा रहे हैं। कुल 260 कार्यों में 163 जलापूर्ति तथा 97 सीवरेज के हैं, जिनमें क्रमशः 83 एवं 32 पूर्ण तथा क्रमशः 80 एवं 65 प्रगति पर हैं।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां