भाजपा सरकार की दोषपूर्ण नीतियों के कारण युवाओं में है आक्रोश- अखिलेश यादव

लखनऊ। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का आज सैकड़ों नौजवानों ने प्रदेश कार्यालय लखनऊ में स्वागत किया। उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों से आये युवाओं ने यादव से अपनी पीड़ा बताते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने रोजगार के अवसर खत्म कर दिये हैं। किसी भी वैकेंसी की नियत समय पर भर्ती नहीं हो रही है। प्रतियोगी परीक्षाओं से जुड़ी अनियमितताएं आये दिन प्रकाश में आती रहती है। कई परीक्षा परिणाम घोषित होने के बाद भी रद्द कर दिये जाते है।

भाजपा सरकार की दोषपूर्ण नीतियों के कारण युवाओं में आक्रोश है। चार वर्ष के भाजपा शासनकाल में चार लाख नौकरी का दावा खोखला है। इसका सच्चाई से कोई वास्ता नहीं है। उत्तर प्रदेश के छात्रों-युवाओं का विश्वास अखिलेश यादव के नेतृत्व में है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि नौजवानों का भविष्य हर हाल में सुरक्षित रखा जायेगा। समाजवादी पार्टी इसके लिए प्रतिबद्ध है। पिछली समाजवादी सरकार में यूपी को रोजगार सृजन के मामले में अग्रणी बनाने के लिए अनेक प्रयास किए गए थे। युवाओं को जहां कौशल विकास के माध्यम से रोजगार के लिए आत्मनिर्भर बनाया गया वहीं अनेक नियुक्तियां समय से पूरी की गई।

यादव ने कहा कि भाजपा की नीयत और नीति युवा विरोधी है। रोजगार जैसे गम्भीर विषय को भी भाजपा ने मजाक बना रखा है। सरकार की नीतियों से बेरोजगारी में बेतहाशा वृद्धि हो रही है। नौकरियों में कटौती और सरकारी उपक्रमों का निजीकरण कर भाजपा सरकार स्पष्ट संदेश दे रही है कि उसकी प्राथमिकता में रोजगार नहीं है। भाजपा ने बीते चार वर्षों के कार्यकाल में छात्रों-युवाओं के साथ अन्याय किया है। अधिकार मांग रहे युवा समूहों का दमन ही सरकार का असल चरित्र है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार