कांग्रेस ने शुरू किया सेवा सत्याग्रह के अंतर्गत मेरा गांव -मेरा अभियान, भेजी भारी मात्रा में दवाईयां एवं सेनेटाइजर


लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने आज से पूरे प्रदेश में सेवा सत्याग्रह शुरू किया। उत्तर प्रदेश की प्रभारी महासचिव प्रियंका गांधी द्वारा भेजी गयी जरूरी दवाओं की पहली खेप आज से लखनऊ से जिलों में रवाना होगी। गौरतलब है कि महासचिव प्रियंका गांधी द्वारा 10 लाख कोरोना होम आइसोलेशन उपचार के लिए दवाएं भेजी जा रही हैं। यह दवाएं कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा चिकित्सीय परामर्श पर दी जाएगी।

इसके साथ ही साथ महासचिव प्रियंका गांधी ने पंचायत चुनाव में चुने गए जनप्रतिनिधियों को शुभकामनाएं देते हुए कोरोना महामारी से लड़ने के लिए सहयोग की अपील की है। गौरतलब है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर में कांग्रेस पार्टी जी जान लगाकर लोगों की सेवा कर रही है। महासचिव प्रियंका गांधी ने कई जिलों में ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर और आक्सीजन सिलेंडर भेजकर फौरी तौर पर राहत पहुंचाने का अभियान पहले ही शुरू कर दिया था। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर आयोजित पत्रकारवार्ता में सेवा सत्याग्रह के अंतर्गत मेरा गांव-मेरा अभियान प्रारम्भ करते हुए उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बताया कि कोरोना संक्रमितों के लिये 10 लाख दवाओं के साथ 15 लाख लीटर सेनेटाइजर की व्यवस्था कर प्रदेश के सभी गांवों में सेनेटाजेशन शुरू किया जा रहा है जिसके लिये दवाएं आज से रवाना करने के साथ सेनेटाइजर टैंक भी भेजे जा रहे हैं।

उन्होंने भाजपा की योगी आदित्यनाथ सरकार पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि गांवों में पीएचसी व सीएचसी में ताले लटक रहे हैं। कोरोना जांच के लिए बनी कमेटियों में मृतक, रिटायर्ड व त्यागपत्र दे चुके कर्मचारियों को रखकर जांच का कराने का ढोंग कर लोगों को त्रासदी में ढकेलने का दुःखद काम कर रही है। सरकार की समस्त घोषणाएं हवा हवाई है जिनसे लोगों के जीवन की रक्षा नहीं हो सकती है। मुख्यमंत्री के गृह जनपद में एक-एक गांव में 20 से 80 लोगों तक की मौत हो गयी। सरकार गांवों में हो रही मौतों के आंकड़े छिपाने के लिये उनकी मौतों को कोरोना से हुई मौत नहीं मान रही है। लल्लू ने कहा कि आधे से अधिक टीकाकरण केंद्र बंद कर देने वाली राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार फर्जी आंकड़ों व हेरा फेरी करते हुए जनता को गुमराह करने तक सीमित है। 


मुख्यमंत्री घोषणा मंत्री के रूप में अपने एजेंडे पर चलकर प्रदेशवासियों के समक्ष झूठ पर झूठ बोलकर त्रासदी से लोगों को बचाने नहीं केवल अपनी मलिन छवि को चमकाने में लगे हुए हैं। मरते हुए लोगो की उन्हें चिंता नही है। इलाज, टेस्टिंग सहित सभी तरह की अव्यवस्थाओं व कोरोना संक्रमण, ब्लैक, व्हाइट फंगस से हो रही मौतों के लिये राज्य सरकार जिम्मेदार है वह हवा हवाई घोषणाए कर अपनी संवैधानिक व नैतिक जिम्मेदारी से बच नहीं सकती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के समस्त पीएचसी को वैक्सीनेशन सेंटर घोषित करने वाली राज्य सरकार की नाक के नीचे राजधानी लखनऊ के पीएचसी के बाहर वैक्सिीनेशन के लिये लोग खड़े रहे और उनके ताले खुले ही नहीं। जब यह स्थित लखनऊ की है तो समझा जा सकता है कि प्रदेश के अन्य जनपदों के दूरस्थ गांवों की स्थित क्या होगी?

उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सभी पदाधिकारी न्याय पंचायत स्तर तक कि कमेटियों के माध्यम से गांव गांव कोरोना लक्षण वाले संक्रमितों व होम आइसोलेशन के मरीजों को चिकित्सीय परामर्श के आधार पर दवाएं उपलब्ध करायेंगे। गांव गांव सेनेटाइजेशन का अभियान सेवा सत्याग्रह के अंतर्गत मेरा गांव मेरा अभियान में वृहद स्तर पर चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि संकटकाल मे कांग्रेस पूर्व से ही बड़े स्तर पर कोविड हेल्प डेस्क के माध्यम से जरूरतमंदों तक आक्सीजन सिलेंडर, ऑक्सीजन कन्संट्रेटर, प्लाज्मा व रक्तदान के साथ भोजन व राशन वितरण कर सेवा में लगातार लगी है। कांग्रेसजन अपने नैतिक व सामाजिक सरोकारों के गम्भीर दायित्व का निर्वहन करती है। उन्होंने कांग्रेसजनों का आवाहन किया कि आपदा के इस संकटकाल में अपने दायित्वों का गम्भीरता से निर्वहन करें।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न