"आप" समर्थित जीते हुए जिला पंचायत सदस्यों को पार्टी विधानसभा चुनाव में देगी मौका - संजय सिंह



लखनऊ : पहली बार पंचायत चुनाव में उतरी आम आदमी पार्टी को जनता का भरपूर प्यार मिला है। पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं ने प्रदेश के हर जिले तक पार्टी की पैठ बना दी है।

परिणाम आने तक 70 से अधिक जिला पंचायत सदस्य और 200 से अधिक ग्राम प्रधान के प्रत्याशी जीत चुके हैं, कई परिणाम आने अभी बाकी हैं और भारी संख्या में प्रत्याशी दूसरे, तीसरे स्थान पर रहे है । प्रदेश की जनता को इस अपार समर्थन के लिए आभार और विजयी प्रत्याशियों को बधाई। पार्टी अच्छा प्रदर्शन करने वाले जिला पंचायत सदस्यों को विधानसभा चुनाव में मौका दे सकती है। पार्टी के प्रदेश प्रभारी, राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने पंचायत चुनाव परिणाम पर ये प्रतिक्रिया दी।

संजय सिंह ने कहा कि पंचायत चुनाव में प्रदेश की जनता ने विधानसभा चुनाव में होने वाले बड़े बदलाव का संकेत दे दिया है। आम आदमी पार्टी ने प्रदेश में बदलाव की राजनीति शुरू की तो तेजी से यहां पार्टी का परिवार बढ़ना शुरू हुआ। आज गांव गांव तक संगठन खड़ा हो चुका है। बड़ी संख्या में पार्टी समर्थित क्षेत्र पंचायत सदस्य भी विजयी हुए हैं। 

यह "आप" की ग्रामीण इलाकों में हुई जबरदस्त एंट्री है, इससे सत्ता में बैठे तानाशाही चला रहे लोगों के माथे पर चिंता की लकीरें  खिंच गई हैं। शहर की पार्टी बताकर आम आदमी पार्टी को नकारने वालों को जनता ने खुद जवाब दे दिया है। मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर से लेकर प्रतापगढ़, संतकबीर नगर, जौनपुर, बागपत, बरेली, मैनपुरी, लखीमपुर खीरी, महोबा आदि जिलों में पार्टी ने विधानसभा चुनाव का मॉकड्रिल माने जा रहे जिला पंचायत चुनाव में सफलता हासिल की है। जिला पंचायत चुनाव में पार्टी का परचम फहराने वाले साथियों को पार्टी विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी बना सकती है। राजधानी लखनऊ से लेकर प्रदेश के लगभग सभी जिलों से उम्मीदवार जीते हैं। इस सुखद परिणाम के लिए सभी विजेताओं को बधाई। 

प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने पंचायत चुनाव में पार्टी को मिली सफलता पर कार्यकर्ताओं का आभार जताते हुए सरकार के दवाब में प्रशासन द्वारा पार्टी के जीते उम्मीदवारों को प्रमाणपत्र न देने का आरोप लगाया । उन्होंने कहा कि मैनपुरी, बांदा, रायबरेली और पीलीभीत जैसे कई जिलों से शिकायतें आई हैं कि जीत के बावजूद पार्टी के उम्मीदवारों को सरकार के इशारे पर प्रशासन प्रमाण पत्र नहीं दे रहा और हराने का प्रयास कर रहा है । योगी सरकार पुलिस, प्रशासन के दम पर आम आदमी पार्टी के प्रत्याशियों को जबरन हराने का काम कर रही है । पीलीभीत जनपद का एक वीडियो जारी कर उन्होंने कहा कि पीलीभीत जनपद में कार्यकर्ता प्रदर्शन करने को मजबूर हुए जहां पर जीते हुए प्रत्याशी को प्रमाण पत्र प्रशासन के द्वारा नहीं दिया जा रहा था । उन्होंने विजयश्री हासिल करने वाले पार्टी समर्थित ग्राम प्रधान, बीडीसी और जिला पंचायत सदस्यों को बधाई दी। सभाजीत सिंह बोले पार्टी की जीत विधानसभा चुनाव के रण में कार्यकर्ताओं का हौंसला बढाने का काम करेगी। गांव गांव से मिला पार्टी को प्यार विधानसभा चुनाव में परिवर्तन की बयार बनकर बहेगा। 

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार