नैमिष प्रताप सिंह ने उत्तर प्रदेश की कम से कम 300 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ने का किया दावा



लखनऊ : उत्तर प्रदेश में साल 2022 में होने वाले विधान सभा चुनावों की तैयारिया शुरू हो गई है. इसी क्रम में लोकशक्ति अभियान ' एक स्वैच्छिक संगठन ' के राष्ट्रीय अध्यक्ष और 36 रायबरेली लोकसभा क्षेत्र से पूर्व स्वतंत्र प्रत्याशी नैमिष प्रताप सिंह ने बेहद चौंकाने वाला दावा करते हुए यह एलान कर दिया है कि राज्य में साल 2022 में होने वाले विधान सभा चुनावों में वे 300 सीटों पर प्रत्याशी खड़ा करेंगे और लगभग 100 सीटे सहयोगी दलों के लिए छोड़ दिया जायेगा . नैमिष प्रताप सिंह ने बताया कि वे पिछले 15 दिनों से लखनऊ शहर और उत्तर प्रदेश के दूसरे जिलों के तमाम समाजसेवियों , अधिवक्ताओं , पत्रकारों , साहित्यकारों , भूतपूर्व सैनिकों , छात्र - युवा संगठनों के नेताओं , किसान - मजदूर - दस्तकार - पटरी दुकानदार नेताओं , ठेले - खोमचे वालों , छोटे - मंझोले व्यापारियों , सेवानिवृत्ति अधिकारियों - कर्मचारियों और समाज के लगभग सभी वर्गो के लोगों से उत्तर प्रदेश /भारत महादेश के राजनीतिक - सामाजिक परिवेश पर गंभीरतापूर्वक चर्चा कर रहे है. उन्होंने कहा कि आपसी बातचीत में भारत महादेश विशेषकर उत्तर प्रदेश राज्य में राजनीतिक विकल्प की कमी महसूस की गई . 

लोकशक्ति अभियान के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आज हमारा लोकतंत्र और स्वशासन के जनतांत्रिक अधिकार खतरे में पड़ गया है. अब उत्तर प्रदेश की शांतिपूर्ण खुशहाली और सर्वसमावेशी विकास के लिए विधान सभा चुनावों में भाग लेने के अलावा कोई विकल्प नहीं रह गया है. उन्होंने कहा कि लगभग दो सप्ताह पूर्व से विधान सभा चुनावों में भागीदारी करने के लिए जब गंभीर चर्चा शुरू हुई तो आरम्भ से ही इसमें लखनऊ शहर के एक प्रतिष्ठित समाजसेवी और पंजीकृत राजनीतिक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का मार्गदर्शन मिलना शुरू हो गया.अब जबकि राज्य में अगले साल होने वाले विधान सभा चुनावों में भागीदारी करने को लेकर तस्वीर बिलकुल साफ हो चुकी है तब हम नये राजनीतिक दल के गठन की जिम्मेदारी से भी बच जायेंगे क्योंकि इसका पंजीकरण पहले से ही है.उक्त पंजीकृत राजनीतिक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का सहयोग और सार्वजनिक जीवन के अपने पुराने अनुभव का परिणाम यह रहा कि देखते ही देखते लखनऊ जिले की सभी विधानसभा क्षेत्रों से प्रत्याशियों का चयन हो गया ,अब केवल घोषणा करना भर बाकी रह गया है.

नैमिष प्रताप सिंह ने कहा कि जुलाई माह में प्रेस वार्ता करके मुख्यमंत्री पद के लिए नाम की घोषणा होगी . इसी के साथ - साथ  लखनऊ जिले की सभी विधानसभा क्षेत्रों से जुलाई में होने वाली प्रेस वार्ता में प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर दी जायेगी. इसके बाद लखनऊ के जितने भी निकटवर्ती जिले है जैसे कि रायबरेली , बाराबंकी , सीतापुर , हरदोई , उन्नाव आदि जिलों में प्रत्याशियों का चयन किया जायेगा. इसके बाद अमेठी , प्रतापगढ़ , सुलतानपुर , अम्बेडकर नगर , अयोध्या , गोंडा , बहराइच , बलरामपुर , श्रावस्ती , लखीमपुर खीरी , पीलीभीत , कानपुर , कानपुर देहात , औरैया , शाहजहांपुर , फतेहपुर  सहित राज्य के दूसरे जिलों में विधान सभा चुनावों के लिए प्रत्याशियों का एलान किया जायेगा. इस तरह से उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधान सभा चुनावों में पूरी मजबूती के साथ भागीदारी किया जायेगा.

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

पीसीएस मणि मंजरी राय आत्महत्या मामले में नया खुलासा, ड्राइवर गिरफ्तार

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न