मुख्य सचिव की अध्यक्षता में उ0प्र0 राज्य आयुष सोसाइटी की 7वीं बैठक आयोजित

लखनऊ मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में उ0प्र0 राज्य आयुष सोसाइटी की शासी निकाय की 7वीं बैठक आयोजित की गई, जिसमें वर्ष, 2021-22 के लिए 580 करोड़ रुपये की वार्षिक कार्ययोजना को अनुमोदित किया गया।
 
अपने सम्बोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि नेशनल आयुष मिशन के अन्तर्गत 301 आयुष-हेल्थ एण्ड वेलनेस सेण्टर का निर्माण पूर्ण हो जाने के फलस्वरूप अवशेष 291 सेण्टर के निर्माण में तेजी लाकर निर्धारित मानक एवं उच्च गुणवत्ता सुनिश्चित कराते हुये 31 जुलाई, 2021 तक पूर्ण कराया जाये। इसके अतिरिक्त 05 आयुष इंटीग्रेटेड (50 बेडेड) हॉस्पीटल का निर्माण कार्य पूर्ण हो गये हैं, अवशेष 11 हॉस्पीटल का निर्माण कार्य भी माह सितम्बर, 2021 तक अवश्य पूरा कर लिया जाये। बैठक में नेशनल आयुष मिशन के तहत राज्य वार्षिक कार्ययोजना 2021-22 के अन्तर्गत फ्लैक्सी पूल मद में 210 करोड़ रुपये, आयुष सर्विसेज एण्ड एचडब्ल्यूसी मद में 356 करोड़ रुपये, आयुष एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन मद में 08 करोड़ रुपये, एडमिन कास्ट (एसपीएमयू) मद में 6 करोड़ रुपये अर्थात कुल 580 करोड़ रुपये की कार्ययोजना को अनुमोदन प्रदान कर सक्षम स्तर पर स्वीकृति प्राप्त करने की संस्तुति की गई।
 
इससे पूर्व बैठक में उ0प्र0 राज्य आयुष सोसाइटी की शासी निकाय की 6वीं बैठक में अनुमोदित राज्य वार्षिक कार्ययोजना की वित्तीय एवं भौतिक प्रगति से अवगत कराया गया। वित्तीय वर्ष 2020-21 में अवमुक्त धनराशि का 93 प्रतिशत तथा वित्तीय वर्ष, 2019-20 में अवमुक्त धनराशि का 94 प्रतिशत व्यय की गई है। बैठक में बताया गया कि 592 आयुष-हेल्थ एण्ड वेलनेस सेण्टर स्वीकृत किये गये थे, जिसमें से 301 सेण्टर का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है, अवशेष 291 सेण्टर का निर्माण कार्य द्रुतगति से चल रहा है। इसके अतिरिक्त 16 आयुष इंटीग्रेटेड (50 बेडेड) हॉस्पीटल स्वीकृत किये गये थे, जिसमें से 05 हॉस्पीटल का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है, अवशेष 11 हॉस्पीटल्स का निर्माण कार्य प्रगति पर है।
 
बैठक में यह भी बताया गया कि 3934 आयुष डिस्पेंसरी और 19 आयुष मेडिकल कॉलेज एवं सम्बद्ध चिकित्सालयों द्वारा कोविड-19 से बचाव हेतु आयुष मंत्रालय, भारत सरकार की गाइडलाइन्स के अनुसार आयुष ड्रग वितरण किया जा रहा है। कोविड-19 की सेकेण्ड वेव के दौरान मुफ्त वितरण कोविड संक्रमित, होम आइसोलेटेड, क्वारान्टाइन पेशेन्ट्स और अन्य पारिवारिक सदस्यों की इम्युनिटी बूस्ट तथा कोविड-19 से बचाव हेतु आयुरक्षा किट एवं आयुष-64 मेडिसिन का वितरण किया गया है। आयुष मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा 195 योगा वेलनेस सेण्टर स्वीकृत किये गये हैं, जिसमें से 185 सेण्टर  पूर्णतया क्रियाशील हैं।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां