सीबीएसई ने 12वीं के परिणाम किए जारी, छात्राओं ने मारी बाजी

  
केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने 12वीं के परिणाम जारी कर दिए हैं। इसके मुताबिक इस साल कुल 99.37% छात्र उत्तीर्ण हुए हैं। हालांकि इसमें छात्राओं का प्रतिशत ज्यादा है। इस साल कुल 1304561 छात्र सीबीएसई 12वीं बोर्ड की परीक्षा में शामिल होने वाले थे। इनमें से 1296318 छात्र पास घोषित किए गए हैं और इनका अंकपत्र सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट https://cbseresults.nic.in/ पर अपलोड कर दिया गया है।
 
इस वर्ष, 2021 में सीबीएसई से संबद्ध कुल स्कूल 14088 स्कूलों के परिणाम घोषित हुए हैं। पिछले साल 2020 में कुल 13108 स्कूलों के रिजल्ट जारी हुए थे। सीबीएसई की तरफ से आज सुबह ही जानकारी दी गई थी कि दोपहर 2:00 बजे परिणाम घोषित किए जाएंगे। छात्रों की सुविधा के लिए रोल नंबर हासिल करने का विकल्प सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट https://www.cbse.gov.in/ पर दिया गया है। वहां से छात्र अपनी जानकारी देकर अपना रोल नंबर हासिल कर सकते हैं। उसके बाद वेबसाइट पर 3 दिए गए लिंक में से किसी एक पर क्लिक कर अपना मार्कशीट डाउनलोड कर सकेंगे। इस वर्ष, 2021 में सीबीएसई 12वीं बोर्ड की परीक्षा में कुल 1430188 परीक्षार्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। इनमें से 60443 छात्र प्राइवेट और पत्राचार के जरिए पढ़ाई कर रहे थे। इनकी परीक्षाएं 16 अगस्त से 15 सितंबर के बीच आयोजित कराई जाएंगी।
 
इस साल सीबीएसई में कुल 1369745 रेगुलर विद्यार्थी थे। इनमें से 1304561 छात्रों का परिणाम जारी किया गया है। 65184 छात्रों का रिजल्ट फिलहाल घोषित नहीं हो सका है। लेकिन 5 अगस्त तक इसे घोषित किया जाएगा। इस बार सीबीएसई के परिणामों में 99.67 प्रतिशत छात्राओं ने सफलता हासिल की है। जबकि 99.13 फ़ीसदी छात्र उत्तीर्ण घोषित हुए हैं। इस तरह छात्राओं ने 0.54 फ़ीसदी की बढ़त हासिल की है। ट्रांसजेंडर श्रेणी के सभी 100 फ़ीसदी छात्र उत्तीर्ण घोषित किए गए हैं। सीबीएसई से मिली जानकारी के मुताबिक 150152 छात्रों ने 90 से 95% के बीच अंक हासिल किया है। इनका प्रतिशत 11.51 है। कुल 70004 परीक्षार्थियों ने 95 फ़ीसदी से ज्यादा अंक हासिल किए हैं। इनका प्रतिशत 5.34 फीसदी है।

Popular posts from this blog

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।