युवा कांग्रेस द्वारा सोशल मीडिया की कार्यशाला का किया गया आयोजन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश युवा कांग्रेस द्वारा सोशल मीडिया की कार्यशाला का आयोजन आज यहां प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के मीडिया सभागार में किया गया। जिसमें मुख्य रूप से भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सोशल मीडिया कन्वीनर एवं उ0प्र0 सोशल मीडिया इंचार्ज डा0 सुमित दुबे एवं उ0प्र0 युवा कांग्रेस के अध्यक्ष कनिष्क पाण्डेय मौजूद रहे।

प्रदेश युवा कांग्रेस के प्रवक्ता वर्चस्व पाण्डेय ने बताया कि कार्यशाला में प्रदेश भर से आये युवा कांग्रेस के सोशल मीडिया कोआर्डिनर्स को सोशल मीडिया के माध्यम से कांग्रेस पार्टी की नीतियों, कार्यक्रमों को जहां व्यापक पैमाने पर प्रचार-प्रसार करने पर जोर दिया वहीं गैर कांग्रेसी दलों द्वारा भ्रामक प्रचारों का धारदार तरीके से जवाब देने के लिए युवा कांग्रेस के पदाधिकारियों को गुर सिखाये गये। फेक न्यूज के माध्यम से जिस प्रकार मौजूदा सरकार विपक्ष को जनता के समक्ष कटघरे में खड़ा करने का प्रयास कर रही है उसका जवाब उसी की भाषा में सोशल मीडिया वारियर्स द्वारा दिया जायेगा और जन-जन तक कांग्रेस द्वारा किये गये ऐतिहासिक कार्यों को पहुंचाने का प्रमुख दायित्व सोशल मीडिया निभायेगी।

इसके उपरान्त प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता में प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष कनिष्क पाण्डेय ने कहा कि आज बेरोजगारी की दर आजादी के बाद सर्वाधिक है। भारतीय जनता पार्टी की सरकार में युवाओं, महिलाओं, छात्रों और किसानों का सर्वाधिक शोषण हो रहा है। मंहगाई से आम जनता और किसान त्रस्त हैं। जो भर्तियां इस सरकार में निकाली गयी वह भी भाजपा सरकार के घोटाले की शिकार हो गईं। आये दिन सड़कों पर उतरकर युवा और बेरोजगार संघर्ष कर रहे हैं और भाजपा उन पर लाठियां बरसा रही है। डीजल-पेट्रोल के दाम कोरोना महामारी के दौरान लगातार बढ़ाकर 100 रूपये प्रति लीटर के पार हो चुकी है। लोकतंत्र और निजता के अधिकार का सरेआम हनन किया जा रहा है और केन्द्र सरकार कांग्रेस के शीर्ष नेताओं की जासूसी कराने में व्यस्त रही। युवा कांग्रेस युवाओं, बेरोजगारों, महिला उत्पीड़न, मंहगाई आदि मुद्दों को लेकर संघर्ष करने के लिए प्रतिबद्ध है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन