जनसंघ के संस्थापक डॉ मुखर्जी को सीएम योगी ने किया नमन

लखनऊ। देशभर में आज जनसंघ के संस्थापक डॉ.श्यामा प्रसाद मुखर्जी की 120वीं जयंती मनाई जा रही है। 6 जुलाई 1901 को कोलकाता में डॉ श्यामाप्रसाद मुखर्जी का जन्म हुआ था। इस मौके पर मंगलवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के हजरतगंज स्थित श्यामा प्रसाद मुखर्जी चिकित्सालय (सिविल) पहुंचकर माल्यार्पण किया।
 
इस दौरान उन्होंने मुखर्जी को नमन करते हुए कहा कि डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने भारत की अखंडता के लिए अंतिम दम तक लड़ाई लड़ी और अपनी जान भी दी। भारत की और ओद्योगिक विकास की गति क्या होनी चाहिए इसकी चिंता श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने किया। इसके साथ ही कांग्रेस की सरकार की तुष्टिकरण की नीतियों से अलग हटकर देश के लिए आवाज उठाई। इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक, जलशक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह उपस्थित रहें।
 
वर्ष 1901 में तत्कालीन कलकत्ता (कोलकाता) में जन्में मुखर्जी ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के खिलाफ देशव्यापी अभियान चलाया था। उन्होंने ही कश्मीर को लेकर ''नहीं चलेगा एक देश में दो विधान, दो प्रधान और दो निशान'' का नारा दिया था। मुखर्जी ने 21 अक्टूबर 1951 को भारतीय जनसंघ की स्थापना की थी, जो बाद में भारतीय जनता पार्टी बनी। दूसरी बार केंद्र की सत्ता में आने के बाद मोदी सरकार ने अनुच्छेद 370 को समाप्त करके मुखर्जी के सपने को पूरा किया है।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां