मुस्कराकर जो देश का भार उठाए, वो 'मीराबाई चानू' कहलाए


जब किसी स्त्री का पराक्रम देख कर पुरुषों की भुजाएं फड़क उठें तो वह व्यक्ति की नहीं पूरे समाज की जीत होती है। जीत वह महत्वपूर्ण नहीं होती जिससे अपना कद बढ़े, विजय वह महत्वपूर्ण होती है जिससे राष्ट्र की छाती चौड़ी हो।

टोक्यो ओलिंपिक में भारतीय महिला वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रच दिया है। मीराबाई ने 49 किलोग्राम वर्ग में सिल्वर मेडल अपने नाम किया। वेटलिफ्टिंग में ये दूसरी बार है जब भारत ने Olympics में मेडल जीता है। मीराबाई चानू की इस उपलब्धि पर देश में खुशी का माहौल है। वहीं, सोशल मीडिया पर #MirabaiChanu टॉप ट्रेंड कर रहा है। लोग उन्हें इसी तरह के हैशटैग के साथ बधाई दे रहे हैं।


पीएम नरेंद्र मोदी, राहुल गांधी, अमित शाह सरीखे दिग्गजों ने भी चानू को जीत की बधाई दी है। एक सोशल मीडिया यूजर ने ट्विटर पर #MeerabaiChanu के साथ लिखा- मुस्करा कर जो देश का भार उठाए, वो मीराबाई चानू कहलाए। वहीं एक दूसरे यूजर ने लिखा- आज की मीराबाई भजन नहीं गाती, वो मेडल जीत कर लाती है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन