रोजगार मुहैया कराने के मामले में महाराष्ट्र अव्वल


कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) से मई 2021 में देशभर में कुल 5,72,634 नए लोग जुड़े। नया रोजगार पाने वाले इन लोगों में से 2,63,736 लोगों ने विभिन्न कारणों से ईपीएफओ की सदस्या छोड़ दी। यानी मई महीने में करीब 2.64 लाख लोगों ने रोजगार का अवसर गंवाया। इसके साथ ही ईपीएफओ का सब्सक्राइबर्स पहले छोड़ चुके 6,10,874 लोग फिर से ईपीएफओ से जुड़ गए।
 
इस तरह मई महीने में कुल 9,19,772 लोगों ने विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार पाया। 18 से 21 साल उम्र के 182437 को रोजगार मिला। इसमें सबसे अधिक 35,251 लोगों को महाराष्ट्र में रोजगार मिला। 22 से 25 साल उम्र के 239283 को रोजगार मिला। इसमें भी सबसे अधिक 56,870 लोगों को महाराष्ट्र में ही रोजगार मिला। 26 से 28 साल के 134591 लोगों ने देशभर में रोजगार पाया। इसमें सर्वाधिक 32,611 लोगों को महाराष्ट्र में नौकरी मिली। 29 से 35 साल के कुल 1,89,860 लोगों को रोजगार मिला। इसमें भी सबसे ज्यादा 44350 नौकरी महाराष्ट्र में लोगों को मिली।
 
35 साल से ज्यादा उम्र के कुल 1,66,942 देशभर में रोजगार पाया। इस श्रेणी में भी महाराष्ट्र ने ही सबसे अधिक 30,892 लोगों को रोजगार दिया। सिर्फ 18 साल से कम उम्र के लोगों को रोजगार देने के मामले में महाराष्ट्र चौथे नंबर पर है। इस उम्र की श्रेणी के कुल 6,659 लोगों को रोजगार मिला। इसमें सबसे अधिक 1,781 को तमिनाडु, 940 को गुजरात में, 787 को हरियाणा में और 627 लड़कों को महाराष्ट्र में नौकरी मिली।

Popular posts from this blog

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

यूपी में पंचायत चुनाव को लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने शुरू की तैयारियां