अमृत योजना की 21वीं स्टेट लेवल हाई पावर स्टीयरिंग कमेटी की बैठक आयोजित

लखनऊ उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में अमृत योजना की 21वीं स्टेट लेवल हाई पावर स्टीयरिंग कमेटी (SHPSC) की बैठक आयोजित की गई। बैठक का संचालन मिशन निदेशक, अमृत योजना अनुराग यादव द्वारा किया गया।
 
अपने सम्बोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने निर्देश दिये कि अमृत योजनान्तर्गत संचालित सभी परियोजनाओं को निर्धारित मानक एवं गुणवत्ता के साथ यथाशीघ्र पूर्ण कराया जाये। राज्य स्तरीय समिति के द्वारा यह निर्णय लिया गया कि भारत सरकार से प्राप्त होने वाले केन्द्रांश धनराशि 1405.36 करोड़ रुपये के लिए प्रस्ताव यथाशीघ्र बनाकर भारत सरकार को प्रेषित किया जाये। बैठक के दौरान मिशन निदेशक, अमृत योजना के द्वारा बताया गया कि अमृत योजना के अन्तर्गत कुल 12221.65 करोड़ रुपये के कार्य पूर्व में स्वीकृत किये जा चुके हैं, जिसमें स्टेट लेवल हाई पावर स्टीयरिंग कमेटी द्वारा 11421.66 करोड़ रुपये की योजनाओं की स्वीकृति भी प्रदान की जा चुकी है तथा 11029.41 करोड़ रुपये के कार्यों की निविदा स्वीकृत हो चुकी है।
 
उन्होंने यह भी बताया कि 12000.90 करोड़ रुपये की योजनाओं के शासनादेश भी निर्गत किये जा चुके हैं। ज्ञातव्य है कि बड़े एवं छोटे शहरों में बुनियादी सुविधाएं देने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा अमृत (अटल मिशन फार रिजूवेशन एण्ड अर्बन ट्रांसफार्मेशन) योजना आरंभ की गई है। इस योजना के अन्तर्गत छोटे शहरों में सीवरेज एवं पेयजल की आपूर्ति की परियोजनाओं की लागत का 50 प्रतिशत व्यय भारत सरकार द्वारा वहन किया जाता है।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन