उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने 539 करोड़ 80 लाख की 327 परियोजनाओं का किया लोकार्पण

सीतापुर उपमुख्यमंत्री उ0प्र0 केशव प्रसाद मौर्य ने शनिवार को जी0के0 ग्राण्ड गेस्ट हाउस में आयोजित कार्यक्रम के दौरान जनपद सीतापुर में लोक निर्माण विभाग के 146.46 करोड़ की लागत के 190 कार्यों का लोकार्पण किया जिनकी लम्बाई 282 किमी0 है।
 
उन्होंने 338.90 करोड़ रूपये लागत की 136 परियोजनाओं का शिलान्यास भी किया, जिनकी लम्बाई 301 किमी0 है। उपमुख्यमंत्री ने उ0प्र0 सेतु निर्माण निगम की 54.44 करोड़ रूपये की लागत की एक परियोजना का लोकार्पण भी किया। इस प्रकार उन्होंने कुल 539.80 करोड़ रूपये लागत की 584 किमी0 लम्बाई की 327 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास भी किया। जनपद के चहुंमुखी विकास के लिये मा0 जनप्रतिनिधियों से प्राप्त अनुरोध के आधार पर नवीन कार्यों की घोषणा भी की, जिनमें शहर में सरांयन नदी पर स्थित पुल का नवनिर्माण भी शामिल है। उन्होंने बिसंवा सिधौली मार्ग के चौड़ीकरण कराये जाने का कार्य शीघ्र प्रारम्भ कराने की घोषणा भी की।
 
साथ ही सीतापुर गोला रोड, सीतापुर बिसंवा रोड एवं खैराबाद बाईपास बनाये जाने समेत जनपद के विकास के लिये अनेकों कार्य कराये जाने की घोषणा की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि शीघ्र ही इन सभी कार्यों को प्रारम्भ कराये जाने हेतु आवश्यक कार्यवाही की जाये। साथ ही शिलान्यास की गयी परियोजनाओं के कार्यों को पूरी गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय सीमा पर पूर्ण किये जाने हेतु भी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि वर्तमान में केन्द्र व प्रदेश सरकार सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास की भावना के साथ सभी धर्म, जाति, वर्ग, सामुदाय के लोगों का बिना भेदभाव के साथ विकास कर रही है। उन्होंने कहा कि सरकार का संकल्प व्यापक विकास एवं सुशासन है। योजना का लाभ हर गरीब तक पहुंचाना लक्ष्य है। युवाओं को रोजगार दिलाने वाली योजनाओं को बनाकर धरातल पर उतारना भी सरकार का उद्देश्य है।
 
वर्तमान केन्द्र व प्रदेश सरकार गरीबों व समाज के अन्तिम पायदान पर खड़े व्यक्तियों को विभिन्न विकास कार्यों एवं लाभार्थीपरक योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित किया है। सरकार ने भ्रष्टाचारी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की है तथा भ्रष्टाचार को जड़ से समाप्त करने का कार्य किया है। इसके साथ ही अपराधियों, गुण्डों, माफियाओं पर कड़ी कार्यवाही भी की गयी है। गरीबों को निःशुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि योजनाओं का शतप्रतिशत लाभ/धनराशि संबंधित लाभार्थियों को प्राप्त हो रही है। वर्तमान सरकार ने गांव-गांव तथा घर-घर में सौभाग्य योजना के अन्तर्गत गरीब से गरीब को बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराये हैं तथा गरीबों के लिये प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत पक्की छत उपलब्ध कराने का कार्य भी किया है। आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत गरीबों को निःशुल्क उपचार की सुविधा देने का कार्य भी सरकार ने किया है।
 
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बीमारी के समय गरीबों को अनेक असुविधाओं का सामना करना पड़ता था। कभी-कभी तो उन्हें अपने खेत, गहनें आदि गिरवी रखने या बेचनें की भी नौबत आ जाती थी, लेकिन आयुष्मान भारत योजना में चिकित्सा सुविधा हेतु मिले लाभ से इन समस्याओं से गरीबों को निजात मिली है। उपमुख्यमंत्री मौर्य ने कहा कि सरकार ने जनता का पैसा विभिन्न योजनाओं के माध्यम से जनता के विकास के लिये समर्पित किया है। उन्होंने कहा कि ‘‘तेरा तुझको अर्पण क्या लागे मेरा.....................‘‘ की भावना से कार्य करते हुये सरकार ने जनता की भलाई के लिये व्यापक प्रयास किये हैं। मेधावी छात्रों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से उनके घर एवं विद्यालय को मार्ग से जोड़नें की योजना ‘‘डा0 ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम गौरवपथ‘‘ नाम से संचालित की जा रही है। उन्होंने कोविड संकट के दौरान लोगों की सेवा करने वालों का अभिनन्दन भी किया।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन