एक दिवसीय शिविर में हुआ कांग्रेस विजय सेना निर्माण टीम का प्रशिक्षण


बांदा। बांदा जनपद के एक प्रतिष्ठित संस्थान में आयोजित “प्रशिक्षण से पराक्रम-कांग्रेस विजय सेना निर्माण“ अभियान का एक दिवसीय प्रशिक्षण शिविर संपन्न हुआ। इस शिविर में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य, जिला कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारी, ब्लॉक अध्यक्ष, शहर अध्यक्ष, शहर कांग्रेस कमेटी, न्याय पंचायत अध्यक्ष व फ्रंटल संगठनों के जिला व शहर अध्यक्षों एवं शहर बाँदा के वार्ड अध्यक्षों ने प्रतिभाग किया।

यहां प्रशिक्षण दाताओ ने कांग्रेस पार्टी संगठन, उसके गौरवशाली इतिहास, आजादी का संघर्ष, भारत देश के विकास की गाथा, वर्तमान झूठ व आडंबर, सोशल मीडिया की चुनौतियों पर विस्तार से प्रकाश डाला। प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरुआत से पूर्व आगंतुकों के लिए पंजीयन व्यवस्था की गई थी, काउंटर पर पंजीयन के बाद सभी पदाधिकारियों को हाल में प्रवेश दिया गया। सेवादल के साथियों के वंदे मातरम गान के साथ कार्यशाला की शुरुआत हुई। यहाँ शिविर की शुरुआत करते हुए कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव प्रदीप नरवाल ने जिला/शहर कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों समेत हाल में मौजूद सभी संगठनों की उपस्थिति ली। कांग्रेस राष्ट्रीय सचिव प्रदीप नरवाल व उप्र कांग्रेस अध्यक्ष/विधायक अजय कुमार लल्लू नें मौजूद कांग्रेसजनों को कांग्रेस विचारधारा से परिचित कराते हुए संगठन के ढांचे को बखूबी समझाया, उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव में प्रियंका गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस का परचम लहराने के लिए कई महत्वपूर्ण टिप्स दिए। यहां उन्होंने राहुल गांधी के निर्देश पर छत्तीसगढ़ में चल रही जन कल्याणकारी योजनाओं पर भी चर्चा की।

पंकज मिश्र, अहमद खान, दानिश आजम वारसी, विजय राव, अजीत आर्या आदि प्रशिक्षकों ने कांग्रेसियों के निडर इतिहास को विस्तार से कांग्रेसजनों के सामने रखा। इसके साथ ही आजादी की लड़ाई में महात्मा गांधी, पंडित जवाहर लाल नेहरू, लाल बहादुर शास्त्री, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी से लेकर वर्तमान में सोनिया गांधी, राहुल गांधी के द्वारा समाजिक उत्थान और भारतीय विकास में कांग्रेस के योगदान के महत्वपूर्ण तथ्यां को स्पष्ट करते हुए कई उदाहरण प्रस्तुत किए। प्रशिक्षकों ने कहा कांग्रेस पार्टी ने संगठन की शुरुआत से 135 सालों के इतिहास में दर्जनों ऐतिहासिक कार्य कर सशक्त भारत का निर्माण किया, अनेकों अवसर पर कांग्रेस के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने अपने बलिदान से भारतवर्ष का मस्तक ऊंचा किया है, उन्होंने आजादी के पूर्व व बाद में आरएसएस की भूमिका का सच भी उजागर किया। प्रशिक्षकों ने आज के समय में सोशल मीडिया की ताकत को विस्तार से समझाया, सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेताओं को लेकर चरित्र हनन वाली फेक तस्वीरों के सच से भी अवगत कराया, इसके साथ ही ऐसी कृत्सित मानसिकता वाली बीजेपी आईटी सेल से निपटने के तौर तरीकों से भी कांग्रेसजनों को अवगत कराया। इसके साथ ही वास्तविक आकड़ों के माध्यम से विरोधियों को से निपटने में राजनैतिक उपयोग कैसा हो? उसके विषय में भी प्रशिक्षित किया गया।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन