रक्षाबंधन पर्व पर मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को दीं हार्दिक शुभकामनाएं

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रक्षाबंधन पर्व पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी हैं। आज यहाँ जारी एक बधाई सन्देश में मुख्यमंत्री ने कहा है कि रक्षाबंधन भाई-बहन के पारस्परिक प्रेम, स्नेह व विश्वास का त्यौहार है। यह पर्व कर्तव्य, आत्मीयता, त्याग, सामाजिक एकता व सद्भाव की भावना का प्रतीक है।
 
रक्षाबंधन भाई-बहन के प्रेम का प्रतीक पर्व तो है ही, यह भारत की गुरु-शिष्य परम्परा का त्यौहार भी है। रक्षाबंधन का त्यौहार श्रावण पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। श्रावण मास में ऋषिगण आश्रम में रहकर अध्ययन और यज्ञ करते थे। श्रावण पूर्णिमा को मासिक यज्ञ की पूर्णाहुति होती थी। यज्ञ की समाप्ति पर यजमानों और शिष्यों को रक्षासूत्र बांधने की प्रथा थी, जिसका पालन रक्षाबंधन के रूप में भी किया जाता है। रक्षाबंधन का त्यौहार समाज में प्रेम और भाईचारा बढ़ाने का कार्य भी करता है। यह दान के महत्व को प्रतिष्ठित करने वाला पावन त्यौहार है। मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत लोगों से रक्षाबंधन का पर्व कोविड प्रोटोकॉल का पूर्ण पालन करते हुए मनाए जाने की अपील की है।
 
मुख्यमंत्री के निर्देशों के क्रम में इस वर्ष भी रक्षाबन्धन के पर्व पर उत्तर प्रदेश परिवहन निगम द्वारा समस्त श्रेणी की बसों में महिलाओं को निःशुल्क बस यात्रा की सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया गया है। इसके तहत 21 अगस्त की मध्य रात्रि 12 बजे से 22 अगस्त, 2021 की मध्य रात्रि 12 बजे तक (24 घण्टे के लिए) निगम की सभी श्रेणी की बसों में महिला यात्रियों को निःशुल्क बस यात्रा की सुविधा उपलब्ध होगी। इसके अलावा, महिलाओं की यात्रा को सुगम एवं सुलभ बनाने के लिए 21 से 22 अगस्त, 2021 तक अतिरिक्त बसों के संचालन की भी व्यवस्था की गयी है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन