फेसबुक पर व्यक्तिगत और निजी जानकारी शेयर करने से बचें- डॉ0 दिग्विजय सिंह

अयोध्या। डाॅ0 राममनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय के जनसंचार एवं पत्रकारिता विभाग में शनिवार को फेसबुक एवं साइबर क्राइम विषय पर विशेष व्याख्यान का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में बतौर वक्ता वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय, जौनपुर जनसंचार विभाग के सहायक आचार्य डॉ0 दिग्विजय सिंह राठौर ने कहा कि फेसबुक उपयोग करने वाले साइबर अपराधियों के निशाने पर लगातार बने हुए हैं। इनसे बचने के लिए जागरूकता ही एकमात्र उपाय है।

उन्होंने कहा कि फेसबुक पर व्यक्तिगत और निजी जानकारियों को शेयर करने से बचना चाहिए। फेसबुक पर निजी जिंदगी की शेयर की गई छोटी से छोटी जानकारी भी हमारे लिए बड़ी समस्या का कारण बन जाती है। उन्होंने कहा कि पूरे विश्व में सर्वाधिक फेसबुक यूजर भारत के हैं। बहुत सारी जानकारियों का अभाव होना साइबर अपराधियों के मकड़जाल में आसानी से उन्हें फंसा देता है। डाॅ0 दिग्विजय ने कहा कि फेसबुक हैकिंग से बचने के लिए सबसे सरल उपाय यह है कि अपने मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी को सार्वजनिक न करें। उन्होंने कहा कि साइबर अपराधियों के जाल में इंजीनियर, डॉक्टर, उच्च पदस्थ अधिकारी भी जागरूक न होने के कारण फॅस जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि ऑनलाइन आर्थिक अपराध के सम्बन्ध में भारत सरकार द्वारा बहुत बड़े स्तर पर कार्य किया गया है। यदि किसी के साथ ऑनलाइन पैसे की धोखाधड़ी होती है तो वह तत्काल 155260 पर कॉल करके इस समस्या से निजात पाइ जा सकती है।कार्यक्रम में विभाग के समन्वयक डाॅ0 विजयेन्दु चतुर्वेदी ने बताया वर्तमान समय में आनलाइन ठगी का शिकार शिक्षित वर्ग भी हो रहा है। इसके लिए हम सभी को सावधान व जागरूक रहने की आवश्यकता है। सोशल मीडिया पर निजी जानकारी साझा करने से बचें। कार्यक्रम में विभाग के वरिष्ठ शिक्षक डाॅ0 राजेश सिंह कुशवाहा, डाॅ0 आरएन पाण्डेय, डाॅ0 अनिल कुमार विश्वा सहित छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन