हर मोर्चे पर बुरी तरह और पूरी तरह विफल है भाजपा सरकार- अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा की राज्य सरकार हर मोर्चे पर बुरी तरह और पूरी तरह विफल है। उसने अपने किए वादे तो निभाए नहीं, प्रदेश को बदहाली और बर्बादी के कगार पर पहुंचा दिया। भाजपा का दूसरा नाम ही घोटाला, धांधली और जालसाजी हो गया है। भाजपा ने राज्य की जनता को सिर्फ परेशानियां, मंहगाई और भ्रष्टाचार के ही उपहार दिए हैं।
 
सन 2022 का चुनाव प्रदेश को नई सरकार मिलने का चुनाव होगा। साढ़े चार साल में जनता ने देखा है कि कैसे प्रदेश विकास और प्रगति में पीछे हुआ है। आज उत्तर प्रदेश की जनता चाहती है कि प्रदेश में प्रोग्रेसिव पॉलिटिक्स हो और लोक कल्याणकारी सरकार सत्ता में आए। स्वास्थ्य और शिक्षा क्षेत्र में भाजपा सरकार ने समाजवादी सरकार की व्यवस्थाओं को चौपट करने के अलावा कुछ और नहीं किया है। भाजपा सरकार की नाकामियों के चलते शिक्षा व्यवस्था गर्त में है। देश का भविष्य विद्यालय परिसरों में जलभराव के कारण छप्पर में पढ़ाई करने को मजबूर है। स्वास्थ्य व्यवस्था की बदहाली का एक नमूना बरेली जिले में देखने को मिला, जहां एक बच्ची की मृत्यु डेंगू से होने पर स्वास्थ्य महकमा छह दिन तक रिपोर्ट दबाए बैठा रहा। कोरोना की तरह डेंगू से मौतों को भी प्रशासन दबाने पर तुला हुआ है। वाराणसी में बीएचयू अस्पताल में बेड न होने से स्ट्रेचर पर इलाज हो रहा है। भाजपा के संकल्प पत्र में 24 घंटे बिजली के वादे और मुख्यमंत्री द्वारा वादा निभाने के झूठे दावे की हकीकत यह है कि पडरौना में 2 दिन से बिजली कटौती हो रही है। खीरी में जनता बिजली संकट से त्राहि-त्राहि कर रही है।
 
राजधानी लखनऊ के कई इलाकों में भी बिजली-पानी की परेशानी है। राज्य की सड़कों को गड्ढ़ा मुक्त करने के भाजपाई दावे की तो जगह -जगह धज्जियां उड़ रही है। भाजपा सरकार में एक यूनिट बिजली का उत्पादन नहीं हुआ। बरेली लखनऊ हाई-वे और आरपीआरआई रोड़ पर गड्ढ़ों की वजह से गाड़ी से उछल कर दो लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। तमाम जगहों पर सड़कें टूटीफूटी होने से दुर्घटनाएं हो रही हैं, लोग त्रस्त हैं। भाजपा पहले ढिंढोरा पीटती है फिर विज्ञापन में विकास का हल्ला मचाती है। उन्नाव में सन्2018 में महिलाओं के हेतु बने पिंक शौचालयों को कागजों में नया दिखाकर निर्माण वर्ष 2021 में कर दिया गया। ईंट लगी न सीमेंट बस बन गया शौचालय। यही है भाजपा का हवाई विकास। सच्चाई यही है कि प्रदेश में भाजपा ने एक भी योजना को धरती पर नहीं उतारा है। समाजवादी पार्टी के कार्यों को ही अपना बताकर उसने साढ़े चार साल निकाल दिए। अब जनता वर्ष 2022 में भाजपा को ही निकाल बाहरकर समाजवादी सरकार बनाने जा रही है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन