दीपोत्सव के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मंच को बॉलीवुड के आर्टिस्ट करेंगे तैयार

अयोध्या। अयोध्या में भगवान श्रीराम के भव्य मंदिर निर्माण शुरू हो चुका है ऐसे में अब अयोध्या में होने वाली दीपावली को भव्यता पूर्वक मनाई जाने योजना है। प्रदेश सरकार ने बड़े स्तर तैयार शुरू कर दी है। जिसके लिए बॉलीवुड के मंचों को तैयार करने वाले आर्किटेक्ट इस बार दीपोत्सव का सेड तैयार करेंगे तो वही इस आयोजन में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शामिल होने की अटकलें भी लगाई जा रही हैं लेकिन अभी अधिकारियों द्वारा इसकी पुष्टि नहीं की है।
 
उनके मुताबिक प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की जानकारी उत्तर प्रदेश सरकार के द्वारा ही दी जा सकती है लेकिन अगर तैयारियों की बात करें तो कहीं ना कहीं एक बार फिर 5 अगस्त की तरह पूरे अयोध्या को सजाए जाने और सुरक्षा व्यवस्था बनाए जाने की योजना पर कार्य शुरू हो चुका है। अयोध्या में योगी के पांचवें दीपोत्सव को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने पर्यटन, संस्कृति और अयोध्या विकास प्राधिकरण को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। जिसके कारण दीपोत्सव के सेड को तैयार करने के लिए बॉलीवुड की भी इंट्री हो रही है। बाहुबली फिल्म खिचड़ी को तैयार करने वाले आर्ट डायरेक्टर नितिन चंद्रकांंत देसाई ने प्रदेश सरकार व अयोध्या विकास प्राधिकरण से संपर्क किया है। तो वहीं इस बार दीपोत्सव के आयोजनों की तैयारी पूरी अयोध्या में स्थान स्थान किया जाएगा।
 
जिसके लिए अयोध्या के प्रवेश मार्गों से लेकर राम की पैड़ी, सरयू घाट से लेकर राम जन्मभूमि तक इन सभी जगहों पर विशेष सेट तैयार किए जाएंगे। तो वहीं इस बार 6 लाख 50 हजार से अधिक दीप प्रज्वलित कर विश्व रिकॉर्ड बनाए जाने की तैयारी भी शुरू कर दी गई है। अयोध्या में दीपोत्सव की तैयारी से पहले नगर की व्यवस्थाओं को भी तैयार किए जाने के लिए प्रदेश सरकार ने 35 करोड़ से सड़केंज़ नालियां, गलियां व क्रॉसिंग को सवारने का निर्देश दिया है।अयोध्या विकास प्राधिकरण विशाल सिंह के मुताबिक देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या दीपोत्सव में शामिल होने की जानकारी अभी प्राप्त नहीं हुई है लेकिन यदि शामिल होते हैं तो यह हम लोगों का सौभाग्य होगा। वहीं बताया कि इस बार दीपोत्सव की तैयारी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चल रही है संस्कृति पर्यटन और विकास कार्यक्रम की तैयारी शुरू कर दी है दीपोत्सव के समय को लेकर कहा कि पहले 3 दिन हुआ करता था लेकिन इस बार 7 दिन का किए जाने की चर्चा की जा रही है लेकिन अभी शासन की तरफ से कोई निर्देश जारी नहीं किया गया है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

अनेक बातें जो हम समझ नहीं पाते

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन