मुख्य सचिव ने अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म सिटी के निर्माण की प्रगति की समीक्षा की

लखनऊ मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने जनपद गौतमबुद्ध नगर में प्रस्तावित अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म सिटी के निर्माण की अद्यतन प्रगति की समीक्षा की। अपने सम्बोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि फिल्म सिटी के निर्माण की टेण्डर प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरा किया जाये तथा माह दिसम्बर, 2021 तक कार्य अवश्य अवार्ड हो जाये।
 
उन्होंने कहा कि फिल्म सिटी के अन्तर्गत प्रस्तावित सभी कार्यों को समयबद्ध पूरा करने के लिए टाइम लाइन निर्धारित कर दी जाये तथा फिल्म सिटी के निर्माण में पीपीपी गाइडलाइन्स का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाये। इससे पूर्व फिल्म सिटी की अद्यावधिक प्रगति की जानकारी देेते हुए अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने बताया कि 1000 एकड़ में फिल्म सिटी का निर्माण किया जा रहा है तथा 90 प्रतिशत से अधिक भूमि पर कब्जा प्राप्त हो गया है। फिल्म सिटी की डीपीआर फाइनल की जा चुकी है तथा कन्सल्टेन्ट का चयन भी किया जा चुका है। फिल्म सिटी का विकास तीन फेज में किया जायेगा। पहले फेज में 376 एकड़, दूसरे फेज में 298 एकड़ तथा तीसरे फेज में 326 एकड़ में विकास कार्य कराये जायेंगे।
 
प्रस्तावित भूमि में 780 में एकड़ फिल्म सिटी व 220 एकड़ व्यावसायिक कार्यों के लिए उपयोग में लाई जायेगी। यह विश्व की सबसे बड़ी फिल्म सिटी होगी। प्रदेश की इस पहली फिल्म सिटी में विश्वस्तरीय आधुनिक टेक्नोलॉजी को शामिल किया जायेगा। फिल्म सिटी का एक बड़ा हिस्सा डिजिटल टेक्नोलॉजी से भी जुड़ा होगा। यीडा के सेक्टर-21 में बनायी जाने वाली इस फिल्म सिटी को इंफोटेनमेन्ट सिटी कहा जाएगा। राज्य की इस पहली फिल्म सिटी में सीरियल व फिल्मों की शूटिंग के लिए विशेष स्टूडियों, एनिमेशन, वेब सीरीज, कार्टून फिल्म, डॉक्यूमेन्ट्री, डिजिटल मीडिया आदि के लिए सभी जरूरी सुविधाएं रहेंगी। फिल्म प्रोडक्शन स्टूडियो, स्पेशल इफेक्ट स्टूडियो, होटल, क्लब हाउस, वाटर बॉडी, गांव, वर्कशॉप, टूरिस्ट एण्ड एंटरटेनमेन्ट शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, एम्यूजमेन्ट पार्क, कन्वेंशन सेन्टर व पार्किंग आदि भी फिल्म सिटी में प्रस्तावित किये गये हैं।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन