CM याेगी ने कानपुर और आगरा मेट्रो के लिए प्रोटोटाइप ट्रेन का किया उद्घाटन

गोरखपुर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कानपुर और आगरा मेट्रो परियोजनाओं की पहली प्रोटोटाइप ट्रेन का उद्घाटन किया। योगी आदित्यनाथ ने संबोधित करते हुए कहा कानपुर और आगरा मेट्रो की पहली प्रोटोटाइप ट्रेन के उद्घाटन के लिए आमंत्रित किया जाना गर्व की बात है। इसके लिए उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन (UPMRC) और एल्स्टॉम ट्रांसपोर्ट इंडिया लिमिटेड को बधाई।


उन्होंने कहा कि पहले भारत परिवहन परियोजनाओं के लिए पश्चिमी कंपनियों पर निर्भर रहता था, अब यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को पूरा करने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। कोरोना वायरस के दाैरान यूपीएमआरसी के प्रयासों की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, हमने देखा है कि कोविड संकट के दौरान यूपी मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने कैसे काम किया। उन्होंने अथक परिश्रम किया और यहां तक ​​कि कोविड भी उनके लिए बाधा नहीं बन सका। सीएम योगी ने कहा कि राज्य के चार शहर वर्तमान में मेट्रो ट्रेनों का उपयोग कर रहे हैं और अन्य शहरों में मेट्रो सेवाएं प्रदान करने के लिए त्वरित प्रयास किए जा रहे हैं। मेट्रो आज एक आवश्यकता है। लखनऊ, गाजियाबाद, नोएडा और ग्रेटर नोएडा वर्तमान में मेट्रो का उपयोग कर रहे हैं।


हम कानपुर और आगरा मेट्रो पर तेजी से काम कर रहे हैं। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि 30 नवंबर तक हम इसे राष्ट्र को समर्पित करने में सक्षम होंगे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका उद्घाटन करेंगे। गोरखपुर, प्रयागराज, झांसी, वाराणसी और मेरठ में भी मेट्रो ट्रेन लाने के प्रयास जारी हैं। इनके लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) या तो भेजी जा चुकी है या अंतिम चरण में है। आगरा मेट्रो परियोजना के निर्माण का उद्घाटन प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने दिसंबर 2020 में किया था। आगरा मेट्रो ताजमहल, आगरा किला, सिकंदरा जैसे प्रमुख पर्यटक आकर्षणों को शहर के अन्य परिवहन नोड्स जैसे रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड से जोड़ेगी।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन