राज्य महिला आयोग द्वारा 21 व 22 अक्टूबर को जागरूकता शिविर का किया जायेगा आयोजन

लखनऊ। उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग द्वारा मिशन-शक्ति फेज-3 के अन्तर्गत महिलाओं से सम्बन्धित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का अधिकतम लाभ दिलाये जाने तथा महिला उत्पीड़न की रोकथाम व महिलाओं को त्वरित न्याय दिलाये जाने के उद्देश्य से तथा आवेदक/आवेदिकाओं की सुगमता की दृष्टि से 21 अक्टूबर तथा 22 अक्टूबर, 2021 को प्रदेश के विभिन्न जनपदों में जागरूकता शिविर का आयोजन एवं महिला जनसुनवाई की जायेगी। 21 अक्टूबर को जनपद अयोध्या तथा 22 अक्टूबर को जनपद गाजियाबाद में महिला आयोग की अध्यक्ष बिमला बाथम द्वारा महिला जनसुनवाई की जायेगी। 21 अक्टूबर को जनपद बुलन्दशहर में महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह तथा 22 अक्टूबर को जनपद सीतापुर में महिला आयोग की उपाध्यक्ष अंजू चौधरी द्वारा महिला जनसुनवाई की जायेगी। 

महिला आयोग की सदस्य अनीता सिंह मिर्जापुर, महिला आयोग की सदस्य सुमन चतुर्वेदी इटावा, महिला आयोग की सदस्य इन्द्रवास सिंह बस्ती, महिला आयोग की सदस्य सुनीता बंसल शाहजाहांपुर, महिला आयोग की सदस्य निर्मला द्विवेदी बलिया, महिला आयोग की सदस्य राखी त्यागी शामली, महिला आयोग की सदस्य निर्मला दीक्षित कासगंज, महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी हापुड़, महिला आयोग की सदस्य डा0 कंचन जायसवाल ललितपुर, महिला आयोग की सदस्य प्रभा गुप्ता चित्रकूट, महिला आयोग की सदस्य पूनम कपूर व महिला आयोग की सदस्य रंजना शुक्ला कानपुर नगर, महिला आयोग की सदस्य उषा रानी प्रयागराज, महिला आयोग की सदस्य अनिता सचान फतेहपुर, महिला आयोग की सदस्य शशि मौर्या जौनपुर, महिला आयोग की सदस्य कुमुद श्रीवास्तव श्रावस्ती, महिला आयोग की सदस्य रामसखी कठेरिया बुलन्दशहर, महिला आयोग की सदस्य संगीता तिवारी कुशीनगर, महिला आयोग की सदस्य अवनी सिंह रामपुर, महिला आयोग की सदस्य सुमन सिंह सुल्तानपुर, महिला आयोग की सदस्य मनोरमा शुक्ला बहराइच, महिला आयोग की सदस्य अंजू प्रजापति पीलीभीत, महिला आयोग की सदस्य अर्चना मऊ तथा महिला आयोग की सदस्य मिथिलेश अग्रवाल फर्रूखाबाद में 21 अक्टूबर, 2021 को जागरूकता शिविर का आयोजन एवं महिला जनसुनवाई की जायेगी।

मिशन-शक्ति फेज-3 के अन्तर्गत महिलाओं से सम्बन्धित विभिन्न कल्याणकारी योजनाएं विषयक जागरूकता शिविर का आयोजन कराया जायेगा। शिविर में उपस्थित व्यक्तियों को विभिन्न योजनाओं की विस्तृत जानकारी दिलायी जायेगी तथा  योजनाओं से सम्बन्धित साहित्य उपलब्ध कराये जाने के साथ ही पात्र का सुसंगत योजनाओं में यथासम्भव पंजीकरण भी कराया जायेगा। उ0प्र0 शासन द्वारा संचालित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं यथा निराश्रित महिलाओं को पंेशन वृद्धावस्था पेंशन, आयुष्मान कार्ड बनवाने जाने, कन्या सुमंगला योजना से आच्छादित बालिकाओं को लाभ दिलाये जाने, बेटी बचाओं-बेटी पढ़ाओ, योजना से जनपद की महिलाओं को लाभान्वित किया जायेगा।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर