योगी शासन के दौरान प्रदेश में खोले जा रहे हैं 35 नए मेडिकल कॉलेज

लखनऊ। 1990 तक उत्तर प्रदेश में सिर्फ 9 मेडिकल कॉलेज थे, उसमें से भी तीन मेडिकल कॉलेज अंग्रेज बना कर गए थे। उसमें एक लखनऊ का किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज था जो 1905 में बनकर तैयार हुआ था।
 
एक आगरा का मेडिकल कॉलेज जिसका नाम पहले थॉमस जेम्स मेडिकल कॉलेज था वो 1854 में बना था और वह एशिया का सबसे पुराना और विश्व का तीसरा सबसे पुराना मेडिकल कॉलेज है जिसका नाम बाद में बदलकर सरोजनी नायडू मेडिकल कॉलेज कर दिया गया। बाद में साठ के दशक में जरूर 7 मेडिकल कॉलेज खोले गए और उन मेडिकल कॉलेज को खोलने में चौधरी चरण सिंह और बाबू बनारसी दास का सबसे बड़ा योगदान था।

अब सिर्फ 5 साल के योगी सरकार के शासन के दौरान उत्तर प्रदेश में 35 नए मेडिकल कॉलेज और 2 एम्स खोले जा रहे हैं जिसमें से आज 9 मेडिकल कॉलेज का उद्घाटन भी कर दिया गया और ये सभी मेडिकल कॉलेज सरकारी हैं और सबसे खुशी की बात ये है कि इसमें से किसी भी मेडिकल कॉलेज का नाम किसी एक परिवार के नाम पर नहीं बल्कि उस शहर के किसी न किसी महापुरुष के नाम पर रखा जा रहा है।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर