प्रधानमंत्री ने कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का किया उद्घाटन

कुशीनगर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कुशीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन किया। सभा में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि विश्वभर के बौद्ध समाज के लिए भारत श्रद्धा काआस्था का केंद्र है। उन्होंने कहा कि आज कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट की यह सुविधाउनकी श्रद्धा को अर्पित पुष्पांजलि है। प्रधानमंत्री ने कहा कि भगवान बुद्ध के ज्ञान से लेकर महापरिनिर्वाण तक की संपूर्ण यात्रा का साक्षी यह क्षेत्र आज सीधे दुनिया से जुड़ गया है।

प्रधानमंत्री ने यह रेखांकित करते हुए कहा कि भगवान बुद्ध से जुड़े स्थानों को विकसित करने के लिएबेहतर कनेक्टिविटी के लिएश्रद्धालुओं की सुविधाओं के निर्माण पर भारत द्वारा आज विशेष ध्यान दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री ने कुशीनगर में उतरने वाली श्रीलंका की फ्लाइट और वहां के प्रतिनिधिमंडल का स्वागत किया। आज महर्षि वाल्मीकि की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि देश सबका साथ और सबका प्रयास की सहायता से सबका विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा, “कुशीनगर का विकासउत्तर प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार की प्राथमिकताओं में है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पर्यटन का चाहे जो स्वरूप होचाहे वह आस्था के लिये या आराम के लियेउसके लिये रेलसड़कहवाई मार्गजलमार्गहोटलअस्पताल, इंटरनेट कनेक्टिविटीस्वच्छतासीवर उपचार और स्वच्छ पर्यावरण सुनिश्चित करने वाली नवीकरणीय ऊर्जा से युक्त सभी आधुनिक अवसंरचना की जरूरत है। प्रधानमंत्री ने कहा, “ये सब आपस में जुड़े हैं और इन सब पर एक साथ काम करना अहम है। आज का 21वीं सदी का भारत इसी पथ पर आगे बढ़ रहा है।” प्रधानमंत्री ने घोषणा की कि उड़ान योजना के तहत बीते कुछ सालों में 900 से अधिक नए रूट्स को स्वीकृति दी जा चुकी हैइनमें से 350 से अधिक पर हवाई सेवा शुरू भी हो चुकी है। पचास से अधिक नए एयरपोर्ट या जो पहले सेवा में नहीं थेउनको चालू किया जा चुका है।

प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश में विमानन सेक्टर के विकास का उल्लेख करते हुए कहा कि राज्य में एयर कनेक्टिविटी (वायु संपर्कता) में लगातार सुधार आ रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में कुशीनगर एयरपोर्ट से पहले ही आठ एयरपोर्ट चालू हो चुके हैं। लखनऊवाराणसी और कुशीनगर के बाद जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर काम चल रहा है। इसके अलावा अयोध्याअलीगढ़आजमगढ़चित्रकूटमुरादाबाद और श्रावस्ती में एयरपोर्ट परियोजनाएं चल रही हैं। एयर इंडिया पर हाल में लिये गये फैसले का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि देश का एविएशन सेक्टर प्रोफेशनली चलेसुविधा और सुरक्षा को प्राथमिकता मिलेइसके लिए हाल में एयर इंडिया से जुड़ा बड़ा कदम देश ने उठाया है। उन्होंने कहा, “यह कदम भारत के एविएशन सेक्टर को नई ऊर्जा देगा।

ऐसा ही एक बड़ा रिफॉर्म डिफेंस एयरस्पेस को सिविल यूज़ के लिए खोलने से जुड़ा है।” प्रधानमंत्री ने यह भी बताया कि हाल में लॉन्च ड्रोन नीति से कृषि से स्वास्थ्यआपदा प्रबंधन से रक्षा तक के क्षेत्रों में जीवनोपयोगी बदलाव आयेगा। प्रधानमंत्री ने हाल ही में लॉन्च किए गए प्रधानमंत्री गति शक्ति– राष्ट्रीय मास्टर प्लान के बारे में कहा कि इससे गवर्नेंस में तो सुधार आएगा हीबल्कि यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि सड़क होरेल होहवाई जहाज़ होये एक दूसरे को सपोर्ट करेंएक दूसरे की क्षमता बढ़ाएं।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर