घायल किसानों ने संघर्ष में साथ खड़े होने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका को कहा धन्यवाद

 

लखनऊ। अखिल भारतीय कांग्रेस महासचिव प्रभारी उत्तर प्रदेश प्रियंका गांधी शहीद हुए किसानों के परिवारों से मिलीं और उनसे बात करते-करते भावुक हो गईं, उन्होंने एक बार फिर पीड़ित परिवारों को न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, लखीमपुर किसान नरसंहार में शहीद हुए किसानों और पत्रकार रमन कश्यप की अंतिम अरदास प्रार्थना सभा में शामिल हुईं और अरदास सभा में गुरु ग्रँथ साहिब के सामने मत्था टेका और शहीद किसानों नछत्तर सिंह, लवप्रीत सिंह, गुरविंदर सिंह व दलजीत सिंह और पत्रकार रमन कश्यप की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। जानकारी देते हुए प्रवक्ता जावेद अहमद वारसी ने बताया कि घायल किसानों ने प्रियंका गांधी से मिलकर धन्यवाद दिया कि प्रियंका दीदी आप हमारे संघर्ष में साथ खड़ी हुईं, घायल किसानों में प्रमुख रूप से बैरिया निवासी जनपद लखीमपुर बलजिंदर सिंह पुत्र जीत सिंह और अन्य किसान शामिल रहें। प्रवक्ता जावेद अहमद वारसी ने बताया कि प्रियंका गांधी से पत्रकारों के सवाल करने पर उन्होंने कहा कि आज मैं अंतिम अरदास की सभा में आई हूं, इसलिए कुछ बोलूंगी नहीं, हां यह जरूर है की अंतिम सांस तक किसानों की न्याय की लड़ाई लड़ूंगी।

प्रियंका गांधी का काफिला सुबह 8ः00 बजे लखनऊ एयरपोर्ट से लखीमपुर के लिए निकला था, जिसमें भाजपा सरकार के इशारे पर पुलिस प्रशासन ने तानाशाही कर कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं की गाड़ियों को जगह-जगह रोक लिया गया, उन्हें जाने नहीं दिया गया, प्रियंका गांधी के काफिले को लखीमपुर में तयरूट से डायवर्ट कर भटकाने की कोशिश की गई। भाजपा सरकार ने पूरी कोशिश की कि प्रियंका गांधी शहीद किसानों की अरदास सभा मे न पहुंच पाए, लेकिन प्रियंका गांधी की किसानों के प्रति करुणा और मजबूत इच्छाशक्ति के चलते वह वहां पहुंची और पहुंचकर किसानों को श्रद्धांजलि सभा में श्रद्धांजलि दी

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन