जनता को धोखा देने और छल करने में कोई संकोच नहीं किया भाजपा ने- अखिलेश यादव


लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में जो वादे किए उन्हें पूरा नहीं किया। जनता को धोखा देने और उससे छल करने में कोई संकोच नहीं किया। किसान से आय दुगनी करने, फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) दिलाने का वादा किया पर वादाखिलाफी कर दी। नौजवानों को रोजगार का सपना दिखाया, उनकी जिंदगी में अंधेरा भर दिया। महिलाओं और बच्चियों को अपमानित किया। जनता ने इस तरह भाजपा से इतने धोखे खाए हैं कि अब वह उन्हें जवाब देने पर तुल गई है। इंतजार बस 2022 में होने वाले चुनावों का है।

अखिलेश यादव आज पार्टी मुख्यालय, लखनऊ में डाॅ0 राममनोहर लोहिया सभागार में एकत्र जनसमुदाय को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भाजपा राज में न तो नौकरियां मिली है और नहीं भ्रष्टाचार कम हुआ है। कानून व्यवस्था की स्थिति बद से बदतर है। लोगों में असुरक्षा का भाव है। पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बढ़े दामों से जनता त्रस्त है। शिक्षा और स्वास्थ्य व्यवस्थाएं चौपट हैं। अस्पतालों में न डाक्टर है न दवाएं है। कोरोना के बाद डेंगू का प्रकोप है पर मरीजों को समुचित इलाज नहीं मिल रहा है। लोग तड़प-तड़प कर मर रहे हैं।

यादव ने कहा कि भाजपा ने बिना कोई काम किए यों ही साढ़े चार वर्ष काट लिए हैं। विकास का कोई काम तो किया नहीं उल्टे जो राष्ट्रीय सम्पत्तियाँ हैं, उनको बेचने का काम शुरू कर दिया है। बैंक, बीमा, रेलवे, बेचने के साथ अब एयरपोर्ट भी बेच रहे हैं। विमान सेवा भी पूंजी घराने की भेंट चढ़ गई है। भाजपा का काम पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाना है।अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार में बैठे लोग गलत है। उनसे जनहित के कामों की उम्मीद नहीं की जा सकती है। भाजपा सिर्फ नफरत फैलाना जानती हैं। सामाजिक सद्भाव और सौहार्द की उससे कल्पना भी कैसे की जा सकती है? जनता जान गई है कि भाजपा लूट और झूठ की राजनीति करती है, उसे सन् 2022 में सत्ता से बेदखल किए बिना लोग चैन से नहीं सो पाएंगे।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर