कई प्रमुख नेताओं सहित विधायकों ने बड़ी संख्या में सपा की सदस्यता ग्रहण की


लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नेतृत्व तथा समाजवादी पार्टी की नीतियों पर आस्था जताते हुए आज भाजपा, कांग्रेस के कई प्रमुख नेताओं सहित एक भाजपा तथा 6 बसपा विधायकों ने बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। भीम सेना और लखीमपुर खीरी से आए सदस्य जिला पंचायत तथा प्रधानों के प्रतिनिधिमण्डल ने समाजवादी सरकार बनाने और अखिलेश को मुख्यमंत्री बनाने के लिए अपना समर्थन घोषित किया।
 
बसपा छोड़कर जिन विधायकों ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की उनके नाम है असलम अली हापुड़, सुषमा पटेल जौनपुर, हाकिम लाल बिंद प्रयागराज, मुजतबा सिद्दीकी प्रयागराज, हरगोविन्द भार्गव सीतापुर और मोहम्मद असलम राईनी एडवोकेट श्रावस्ती। भाजपा के सीतापुर से विधायक राकेश राठौर, पूर्व जिला पंचायत सदस्य गौरहारी जौनपुर तथा कांग्रेस छोड़कर आये डाॅ0 कृपाशंकर घाटमपुर ने भी समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। गुडिया बिंद जिलाध्यक्ष महिला सभा भारतीय मानव समाज पार्टी जौनपुर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गई है। इनके अतिरिक्त बसपा के सुरेश निषाद, आतिफ असलम श्रावस्ती, मो0 आदिल जौनपुर, शैलेन्द्र साहू जौनपुर, मनोज शुक्ला कानपुर, सुरेन्द्र कुमार बिठूर, बलवान सिंह महाराजपुर, जीतेन्द्र राज लखनऊ भी समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए हैं।
 
बसपा छोड़कर जितेन्द्र कुमार राज निवासी ग्राम मुरादनगर पूर्व मण्डल क्वार्डिनेटर अपने साथियों के साथ सपा के सदस्य बन गए हैं। सामाजिक संगठन भीम सेना ने समाजवादी पार्टी को समर्थन देने का निर्णय लिया है। भीम सेना के संस्थापक सनाउल्लाह खान, वरिष्ठ उपाध्यक्ष बार एसोसिएशन प्रयागराज तथा जावेद आलम राष्ट्रीय महामंत्री ने अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए समर्थन दिया है। सिख समाज के जिला पंचायत सदस्य सरदार गुरमुख सिंह, प्रधान हरजिन्दर सिंह, यादवेन्द्र पाल सिंह ने अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने का संकल्प लिया।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन