केंद सरकार ने समाज के सभी वर्गों के लिये लागू की है लोक कल्याणकारी योजनाये

 

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास अथावले ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार सबका साथ,सबका विकास और सबका विश्वास के तहत काम कर रही है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने लोक कल्याण के लिये विविध योजनायें चलायी हैं जिनका लोगों को लाभ मिल रहा है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री जन धन योजना के अंतर्गत वर्ष 2014 से अब तक 43 करोड़ 50 लाख 25 हजार खाते खोले गये हैं।

उतर प्रदेश में इस दौरान सात करोड़ 24 लाख से अधिक खाते खोले गये । प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत  2015 से अब तक 31 करोड़ 47 लाख 6 हजार लोगों को लोन वितरित किये गये और उतर प्रदेश में 2 करोड़ 71 लाख से अधिक लोगों को इसका लाभ मिल है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अंतर्गत 2016 से अब तक देश में 8 करोड़ 16 हजार से अधिक गैस कनेक्शन वितरित किये गये है।जिनमें से उतर प्रदेश में 1 करोड़ 47  लाख से अधिक लोग लाभान्वित हुये हैं।इसी तरह प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत देश में 2015 से अब तक 2 करोड़ 35 लाख से अधिक लोगों को आवास उपलब्ध कराये गये हैं और उतर प्रदेश में 23 लाख 14 हजार से अधिक लोगों को मकान मिले हैं।

इसी तरह प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के अंतर्गत अब तक देश में 51 लाख 82 हजार से अधिक लोगों को आवास उपलब्ध कराये गये जबकि उतर प्रदेश में 8 लाख 62 हजार से अधिक लोग लाभान्वित हुये हैं। अथावले ने बताया कि प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत वर्ष 2018 से अब तक 2 करोड़ 28  लाख से अधिक लोग लाभान्वित हुये हैं। जिनमें से उतर प्रदेश में 2 लाख 5 हजार लोगों को लाभ मिला । उन्होंने बताया कि उजाला योजना के अंतर्गत वर्ष 2015 से अब तक देश में 36 करोड़ 68 लाख से अधिक एलईडी बल्ब जारी किये गये हैं जबकि प्रदेश में यह संख्या 2 करोड़ 50 लाख से अधिक है।उन्होंने कहा कि केद्रीय योजनाओं का लाभ बिना किसी भेदभाव के समाज के सभी वर्गों को उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कृषि कानून किसानों के लाभ के लिये बनाये गये है

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन