डेंगू, मलेरिया सहित अन्य वायरल बीमारियों से बचाव के लिये बेहतर सर्विलांस व्यवस्था सुदृढ़ रखी जाए- मुख्यमंत्री

लखनऊ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार की ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ नीति कोविड संक्रमण को नियंत्रित करने में उपयोगी सिद्ध हुई है। उन्होंने कोविड-19 से बचाव व उपचार की व्यवस्थाओं को प्रभावी ढंग से जारी रखने के निर्देश दिए हैं।
 
मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 05 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 07 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 94 है। जनपद अलीगढ़, औरैया, बदायूं, बागपत, बलिया, बलरामपुर, बाराबंकी, बस्ती, बहराइच, भदोही, बिजनौर, चित्रकूट, देवरिया, इटावा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, फिरोजाबाद, गोण्डा, हमीरपुर, हापुड़, हरदोई, हाथरस, झांसी, कानपुर देहात, कासगंज, कौशाम्बी, कुशीनगर, लखीमपुर खीरी, ललितपुर, महराजगंज, महोबा, मैनपुरी, प्रतापगढ़, रायबरेली, रामपुर, संतकबीर नगर, शामली, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, सोनभद्र, सुलतानपुर और उन्नाव में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.7 प्रतिशत है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 1,48,946 कोरोना टेस्ट किए गए।
 
अब तक राज्य में 08 करोड़ 27 लाख 92 हजार 74 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं। मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि केन्द्र व राज्य सरकार के समन्वित प्रयासों से निर्माणाधीन 549 में से अब तक 507 ऑक्सीजन प्लाण्ट क्रियाशील हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि इन ऑक्सीजन प्लाण्टांे के कुशल संचालन के लिये प्रत्येक केन्द्र पर 03 प्रशिक्षित युवाओं की तैनाती की जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार लक्षित आयु वर्ग के सभी नागरिकों को कोरोना टीकाकरण का सुरक्षा कवच निःशुल्क उपलब्ध करा रही है। प्रदेश में टीकाकरण कार्य तेजी से किया जा रहा है। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि राज्य में गत दिवस तक 12 करोड़ 67 लाख 38 हजार कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई गईं। 09 करोड़ 65 लाख से अधिक लोगों वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त हो चुकी है। 03 करोड़ 22 लाख से अधिक लोगों ने टीके की दोनो डोज प्राप्त कर ली हैं। इस प्रकार लक्षित आयु वर्ग के 65.46 प्रतिशत ने एक डोज तथा 20.50 प्रतिशत लोगों ने टीके की दोनों डोज लगवा ली हैं। मुख्यमंत्री जी ने कहा डेंगू, मलेरिया सहित अन्य वायरल बीमारियों से बचाव के लिये बेहतर सर्विलांस व्यवस्था सुदृढ़ रखी जाए।
 
उन्होंने रोगियों के उपचार के लिये समस्त चिकित्सालयों में सभी व्यवस्थाएं बनाये रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी जनपदों में स्वच्छता सैनिटाइजेशन तथा फॉगिंग का कार्य पूरी सक्रियता से संचालित किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी प्रभावित किसानों को तत्परतापूर्वक मदद प्रदान करने के लिये प्रतिबद्ध है। उन्होंने निर्देशित किया कि पिछले दिनों विभिन्न जनपदों में हुई अतिवृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का सर्वे कार्य शीघ्र पूरा किया जाये। उन्होंने कहा कि सभी प्रभावित किसानों को यथा समय क्षतिपूर्ति का भुगतान कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसानों को डी0ए0पी0 खाद सुचारु रूप से मिले। मुख्यमंत्री ने कहा कि आगामी पर्वों को ध्यान में रखते हुये खाद्य सामग्री की गुणवत्ता पर नजर रखी जाए। खाद्य सामग्री में मिलावट की प्रत्येक शिकायत को गम्भीरता से लेते हुये प्रभावी कार्यवाही की जाये। जमाखोरों के खिलाफ छापेमारी कर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश देते हुए कहा कि खाद्य वस्तुओं के मूल्य नियंत्रित रखने के लिए सभी जरूरी कदम उठाये जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल के दिनों में जिन ग्रामीण क्षेत्रों को नगरीय निकायों में शामिल किया गया है। उन सभी क्षेत्रों में आवश्यक नगरीय सुविधाएं उपलब्ध करायी जाएं। इन क्षेत्रों में निवास कर रहे लोगों से संवाद भी किया जाये।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर