कोरोना की पीड़ा और सरकार की नाकामी का महत्वपूर्ण दस्तावेज है 'कोरोना काल'- संजय सिंह

लखनऊ। जाने माने समाजवादी नेता और विचारक रघु ठाकुर की पुस्तक 'कोरोना काल' का विमोचन शनिवार को कैफ़ी आज़मी एकेडमी में हुआ, जिसका आयोजन अनीता सिंह ने किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रघु ठाकुर ने कहा कि वर्तमान सत्ता तंत्र अपने प्रचार तंत्र के जरिये इस कोशिश में है कि कोरोना काल की पीड़ा को लोग भूल जाएं लेकिन हमें उसे भूलना नहीं है क्योंकि यह एक महामारी मात्र नहीं है बल्कि सरकार की लापरवाही का भी दस्तावेज है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए आप सांसद संजय सिंह ने कहा कि हम लोग विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री तो बहुत देखे हैं। वह आए हैं और चले जाएंगे, लेकिन रघु ठाकुर जैसा व्यक्ति 100 साल में सिर्फ एक होता है। यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे रघु ठाकुर के सानिध्य में राजनीति का ककहरा सीखने को मिला है। उन्होंने कहा कि आज जब राजनीति में विचार और मुद्दों की चर्चा लगभग शून्य है तो उस दौर में रघु ठाकुर महत्वपूर्ण हो जाते हैं। कहा कि पुस्तक 'कोरोना काल' पीड़ा और सरकार की नाकामियों का दस्तावेज है। इसके अलावा इसमें और भी महत्वपूर्ण बातें हैं। इसे सबको पढ़ना चाहिए।कार्यक्रम को रिटायर्ड जज डीडी नकवी, साहित्यकार मुकेश शर्मा, समाजवादी आंदोलनों में 52 बार जेल यात्रा किए शाहनवाज कादरी, रमेश दीक्षित आदि ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का सफल संचालन जयंत तोमर ने किया।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन