रामभक्त होने का सर्टिफिकेट न बांटें बीजेपी - सभाजीत सिंह



लखनऊ : आज आम आदमी के प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने गोमती नगर स्थित राज्य कार्यालय पर बुधवार को दिल्ली सरकार की कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना में अयोध्या को शामिल करने के फैसले का स्वागत किया। कहा कि इस योजना के तहत दिल्ली के बुजुर्ग जन को चयनित करके अयोध्या की मुफ्त यात्रा पर भेजा जाएगा। यात्रा का पूरा खर्च दिल्ली सरकार वहन करेगी। इस फैसले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को धन्यवाद देते हुए सभाजीत सिंह ने कहा कि अगर 2022 में यूपी मे हमारी सरकार बनती है तो ऐसी ही योजना बनाकर उत्तर प्रदेश के  लोगों को भी अयोध्या का मुफ्त भ्रमण कराते हुए रामलला का दर्शन कराया जाएगा। हमारी सरकार बनी तो यूपी में बुजुर्गों को फ्री में रामलला का दर्शन कराएंगे। इसके साथ ही सभाजीत सिंह ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दिल्ली में संभलने वाले बयान पर उन्हें आईना दिखाया। कहा- सब राम के है,राम सबके हैं, भाजपा राम भक्त होने का सर्टिफिकेट ना बाटें।

सभाजीत सिंह ने कहा कि योगी आपको विकास देखना हो तो दिल्ली जाकर वहां की सरकार का काम देखना चाहिए। स्वास्थ्य,  रोजगार, शिक्षा की जैसी बेहतर व्यवस्था वहां है, वैसी देश में कहीं नहीं। रामनगरी में हमारे अगुवा केजरीवाल के साथ जो बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बदसलूकी की या कराई वह निंदनीय है। सभाजीत सिंह ने सवाल उठाया कि क्या राम सिर्फ़ भाजपा के है? फिर बोले- नहीं राम सबके हैं और इस बार रामराज्य आ कर रहेगा जो की आप के सत्ता में आने पर ही संभव है। 

प्रदेश के मुख्य प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने कहा कि मुख्यमंत्री तीर्थाटन योजना शुरू हुई थी तो इससे प्रसन्न होकर वहां के बुजुर्गों ने अरविंद केजरीवाल को श्रवण कुमार की उपमा दी थी। इस योजना के तहत बुजुर्गों को अटेंडेंट के साथ देश के विभिन्न प्रसिद्ध तीर्थ की एसी यात्रा सरकार अपने खर्च पर कराती है। यात्रा में सरकार की ओर से चिकित्सक और दवाओं का प्रबंध भी होता है। वहां एसी कमरों में ठहरने के साथ खाने-पीने से लेकर घर लौटने तक का सारा खर्च दिल्ली सरकार उठाती है। अब राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ होने के बाद अयोध्या को इस योजना में शामिल करके केजरीवाल सरकार ने बड़ा काम किया है। इससे यूपी के मुख्यमंत्री घबरा गए हैं। हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष के अयोध्या दौरे के दौरान पहले तो भाजपा ने विघ्न डालने की कोशिश की और फिर योगी ने दिल्ली नहीं संभाली जाती कहकर  बेतुका बयान दिया।  जिस तरह दिल्ली में गरीब के बच्चों को कॉन्वेंट स्कूलों से बेहतर शिक्षा सरकारी स्कूलों में मिल रही है, जैसे वहां के सरकारी अस्पतालों में आम आदमी को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया हैं, जिस तरह से वहां पर लोगों को फ्री बिजली पानी सहित माता बहनों को मुफ्त बस की यात्रा कराई जा रही है, वह उसी राम राज्य की अवधारणा का परिणाम है जिस पर आम आदमी पार्टी की केजरीवाल सरकार काम कर रही है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इससे घबरा गए हैं कि आम आदमी पार्टी राम मंदिर के साथ और रामराज्य की भी बात कर रही है। इसी अवधारणा को आगे बढ़ाते हुए उत्तर प्रदेश में सरकार बनने पर हमने यहां के लोगों के लिए ऐसे ही काम करने की बात कही है। यूपी में हमारी सरकार बनी तो यहां के बुजुर्गों के लिए भी केजरीवाल श्रवण कुमार बनेंगे। वैभव माहेश्वरी ने केजरीवाल की मुख्यमंत्री तीर्थाटन यात्रा के बारे में विस्तार से जानकारी दी और इस तरह की तमाम योजना उत्तर प्रदेश में लाने के लिए आम आदमी पार्टी की सरकार बनवाने की अपील की।

प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कई लोगों को पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई। उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की नीतियों से प्रभावित होकर बड़ी संख्या में लोग पार्टी से जुड़ रहे हैं। इसी कड़ी में अखिल भारतीय सवर्ण समाज पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रवीण कुमार पांडेय, सामाजिक कार्यकर्ता सत्येंद्र कुमार पांडेय, गोरखपुर गगहा के बजरंग दल के संयोजक अमरीश चंद, भाजपा के एनजीओ प्रकोष्ठ के पदाधिकारी आनंद शुक्ला, बसपा नेता सुरेश कुमार आदि को उनके समर्थकों के साथ प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने टोपी और पटका पहनाकर आम आदमी पार्टी की सदस्यता दिलाई।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर