मुख्य सचिव ने अर्जुन सहायक परियोजना एवं काशीपुरा पेयजल परियोजना का किया स्थलीय निरीक्षण

लखनऊ/महोबा। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने अपने जनपद महोबा भ्रमण कार्यक्रम के अन्तर्गत लहचूरा बााँध से संचालित अर्जुन सहायक परियोजना एवं नमामि गंगे के अन्तर्गत निर्माणाधीन काशीपुरा पेयजल परियोजना का औचक निरीक्षण किया। मुख्य सचिव ने सबसे पहले पहले लहचूरा बाँध से संचालित महोबा जनपद की लाइफलाइन अर्जुन सहायक परियोजना का निरीक्षण किया।

निरीक्षण में उन्होंने सर्वप्रथम धसान मुख्य नहर को देखा, जिससे हमीरपुर व महोबा जनपद के कई इलाकों की सिंचाई होती है। इसके उपरांत उन्होंने कंट्रोल केबिन का निरीक्षण किया और अधीक्षण अभियंता सिंचाई से अर्जुन सहायक परियोजना की विस्तृत जानकारी ली। इस मौके पर उन्होंने सम्पूर्ण नहर प्रणाली के बारे पूछा कि किस-किस डैम से कितना-कितना पानी दिया जाता है। उन्होंने यह भी पूछा कि इस नहर से महोबा जिले के कितने हिस्से को कितनी बार सिंचित किया जा सकता है। इसके सम्बन्ध में जिलाधिकारी महोबा सत्येंद्र कुमार द्वारा विस्तृत रूप से अवगत कराया गया।


इस अवसर पर उन्होंने कंट्रोल केबिन की छत से लहचूरा डैम का विहंगम दृश्य भी देखा और इस जगह की सराहना करते हुए कहा कि पर्यटन के लिहाज से यह बहुत ही उत्तम जगह है, इसको विकसित किया जाए। जिलाधिकारी ने बताया कि इस जगह को पर्यटन हब बनाने का प्रयास किया जा रहा है। मुख्य सचिव ने कहा कि लहचूरा पर्यटन स्थल को विकसित कर इसे झांसी-ओरछा पर्यटन सर्किट से जोड़ा जाए। इस दौरान उन्होंने नमामि गंगे की निर्माणाधीन काशीपुरा पेयजल परियोजना का भी निरीक्षण किया। उन्होंने कार्यदायी संस्था को निर्देश दिये कि कार्य की गुणवत्ता में विशेष ध्यान दिया जाए और कार्य समय पर पूर्ण हो।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन