अखिलेश यादव ने शहीद परिवारों से मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी

लखीमपुर खीरी समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज लखीमपुर खीरी के तिकोनिया कांड के शहीद परिवारों से बहराईच जाकर मुलाकात कर उन्हें सांत्वना दी और उन्हें हर सम्भव मदद तथा न्याय दिलाने का आश्वासन दिया। यादव रघुनाथपुर महुरनिया के गुरविंदर सिंह, नानपारा के दलजीत सिंह के परिवारजनों से मिले। उन्होंने कहा परिवार न्याय चाहता है उसे सुरक्षा मिलनी चाहिए।
 
अखिलेश यादव ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात के बाद कहा कि उत्तर प्रदेश के शासन-प्रशासन ने लखीमपुर के नामजद आरोपी को समन भेजने की जो औपचारिक कार्रवाही की है उससे जनाक्रोश और बढ़ गया है। लखीमपुर हत्याकांड के बाद जिस तरह पूरे देश-विशेषकर उत्तर प्रदेश में किसानों के बीच भावात्मक एकता जन्मी है, वह अभूतपूर्व है। ये सरकार लोकतंत्र का गला घोंट रही है। गांवों में भाजपा के झंडे उतर गए हैं। यादव ने कहा कि सिर्फ जांच से न्याय नहीं होगा, गृहराज्य मंत्री का इस्तीफा हो। दोषियों की गिरफ्तारी हो, उन्हें सजा मिले तब न्याय होगा। ग्राउंड से जो वीडियो आ रहे हैं, वे सच्चाई बयान कर रहे हैं। सभी लोग कह रहे हैं कि घटना में गृहराज्य मंत्री के बेटे शामिल थे।
 
उन्होंने कहा समाजवादी पार्टी न्याय के लिए लड़ती रहेगी। सुप्रीम कोर्ट के दखल के बाद न्याय की उम्मीद जगी है। सुप्रीम कोर्ट को भी उत्तर प्रदेश सरकार के रवैये पर भरोसा नहीं है। अखिलेश यादव ने कहा कि कस्टोडियल डेथ के मामले में सबसे ज्यादा नोटिसें मानवाधिकार आयोग ने दी है। भाजपा सरकार खुद आरोपियों को भगाती है। प्रदेश में कानून व्यवस्था ध्वस्त है। अब तो भारत सरकार के हस्तक्षेप से ही वापसी होगी। जनता को भाजपा सरकार पर भरोसा नहीं रह गया है। वह तो सुप्रीम कोर्ट की सख्ती से कुछ कार्रवाई होगी। यादव ने बहराइच जाने से पहले लखनऊ में मीडिया से बात करते हुए कहा कि भाजपा का चाल, चरित्र और चेहरा उजागर हो गया है। इस सरकार के रहते किसी को न्याय नहीं मिल सकता है। यादव ने घटना में केंद्रीय गृहराज्य मंत्री के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि मंत्री रहते उनसे और उनके परिवार से कैसे पूछताछ हो सकती है।
 
पुलिस उनके घर आएगी तब सैल्यूट करेगी और घर से जाएगी तब सैल्यूट करेगी। ऐसी पुलिस कौन सी पूछताछ करेगी? अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार सच को दबाना और सब कुछ छुपाना चाहती है। यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों को धोखा दिया है। समाजवादी पार्टी की सरकार आने पर किसानों की करोड़ों की मदद करेंगे। पुलिस ने कहा कि सरकार शहीद किसानों के परिवारों की मदद क्यों नहीं कर रही है। इतनी बड़ी सरकार है। क्या सरकार के पास किसानों को देने के लिए दो करोड़ रुपए नहीं है? सरकार विज्ञापनों में दमदार होने का दावा करती है। दमदार सरकार केवल ताकतवर लोगों के लिए है, गरीबों और किसानों के लिए नहीं है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन