उपराष्ट्रपति ने कोविड-19 के दौरान शानदार प्रदर्शन करने के लिए रेलवे की सराहना की

उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडु ने कोविड महामारी के दौरान शानदार प्रदर्शन करने तथा कोविड-19 द्वारा पेश की गई अभूतपूर्व चुनौतियों से 'पहियों को गतिमान एवं ग्राहकों को सुरक्षित रखने' के बारे में किए गए नए प्रयासों के लिए भारतीय रेलवे की सराहना की। नायडु ने कोविड केयर आइसोलेशन कोच, श्रमिक स्पेशल ट्रेनों और 'ऑक्सीजन एक्सप्रेस' रेलगाडियों का उदाहरण देते हुए कहा कि भारतीय रेलवे ने अपनी पूरी मशीनरी को तैयार किया है और महामारी से प्रभावी ढंग से निपटने में देश की मदद की है।

उपराष्ट्रपति ने पीपीई, कवरऑल, हैंड सैनिटाइज़र्स और मास्क के आंतरिक विकास और उत्पादन एवं शहरों और गांवों में चिकित्सा उपकरणों तथा सामान्य वस्‍तुओं की ढुलाई सुनिश्चित करने के लिए भी रेलवे की प्रशंसा की। उन्‍होंने कहा कि रेलवे के इस सक्रिय रुख के कारण विभिन्‍न वस्‍तुओं और खाद्य भंडार की कमी को दूर करने में काफी हद तक सफलता मिली है। इस प्रकार रेलवे ने न केवल महामारी से प्रभावी ढंग से निपटने में देश की मदद की है बल्कि जरूरत के समय में यह एक आवश्यक जीवन रेखा भी साबित हुई है। नायडु विशाखापत्तनम रेलवे स्टेशन पर उन्नत एल.एच.बी. (लिंके हॉफमैन बुश) और अतिरिक्त विस्टाडोम कोच वाली विशाखापत्तनम-किरंदुल पैसेंजर ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के बाद बोल रहे थे।

इस शहर के साथ अपने घनिष्ठ संबंधों का स्‍मरण करते हुए उपराष्ट्रपति ने सरकार को धन्यवाद दिया और विशाखापत्तनम-अराकू के मार्ग में विस्टाडोम कोच के उपयोग में तेजी लाने के लिए रेल मंत्रालय को दिए उनके सुझाव पर ध्यान देने के लिए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के निर्णय की भी सराहना की। अनेक मोड़, सुरंगों और पुलों के माध्यम से पूर्वी घाट के सुंदर, पहाड़ी इलाके से गुजरने वाले इस मार्ग की पर्यटन क्षमता का उल्लेख करते हुए नायडु ने कहा कि विस्टाडोम कोच की समग्र दृश्‍य प्रणाली यात्रियों के लिए उनकी यात्रा को एक अविस्‍मरणीय अनुभव बना देगी। उन्होंने इस ट्रेन में एलएचबी कोच लगाने के लिए रेलवे की भी सराहना की, क्‍यों‍कि इन कोच में यात्रियों को बेहतर आराम और सुरक्षा मिलती है। स्वच्छता के लिए विशाखापत्तनम शहर की प्रशंसा करते हुए नायडू ने एक जन आंदोलन के रूप में स्वच्छ भारत की गति को जारी रखने के लिए लोगों का आह्वान किया। विशेष रूप से उन्होंने लोगों से ट्रेनों और रेलवे स्टेशनों को साफ रखने की जिम्‍मेदारी लेने का आग्रह किया।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन