गुरुद्वारा नाका हिंडोला में श्री गुरु नानक देव जी महाराज के 553वें प्रकाशोत्सव हुआ संपन्न

लखनऊ। जगतगुरु साहिब श्री गुरु नानक देव जी महाराज के 19 नवम्बर को 553वें प्रकाश उत्सव के उपलक्ष में माता शांति रानी कौर की याद में दशमेश सेवा सोसायटी द्वारा आयोजित अलौकिक प्रभात फेरी समागम ऐतिहासिक गुरुद्वारा नाका हिंडोला में संपन्न हुआ, जिसमें लखनऊ की विभिन्न संस्थाओं से निकलने वाली प्रभात फेरियाँ प्रातः 6:00 बजे से ही गुरुद्वारा साहब में पहुँचना प्रारंभ हो गई थी जहाँ पर उनका स्वागत दशमेश सेवा सोसायटी के सदस्यों द्वारा फूलों की वर्षा से किया गया, यह जानकारी कमेटी के प्रवक्ता सतपाल सिंह मीत ने दी।
 
दशमेश सेवा सोसायटी के संचालक मंडल के तजिंदर सिंह और इंदरजीत सिंह ने बताया कि अलौकिक प्रभात फेरी समागम का आयोजन गुरुद्वारा साहब में पहली बार किया गया था जहाँ पर लखनऊ की समस्त प्रभात फेरियाँ एकत्रित हुई और उन सब ने गुरुद्वारा साहब में मिलकर गुरबाणी का कीर्तन गायन किया इस समागम में संगतों ने भारी उत्साह दिखाया और काफी बड़ी संख्या में संगत इस समागम में शामिल हुई। लखनऊ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह बग्गा जी ने आई हुई समस्त प्रभात फेरीओं का स्वागत किया और गुरु घर का सिरोपा शॉल देकर सभी को सम्मानित किया तथा यह बताया कि गुरु नानक जयंती के उपलक्ष में 14 नवम्बर को प्रातः 6:00 बजे प्रभात फेरी का आयोजन किया गया है जो सब्जी मंडी चारबाग मोती नगर ऐशबाग होते हुए 9:30 बजे गुरुद्वारा साहब में वापस आएगी।
 
 
19 तारीख को श्री गुरु नानक जयंती का मुख्य समागम डी.ए.वी. कॉलेज मैदान में किया जाएगा जो प्रातः 5:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक लगातार चलेगा जिसमें जालंधर से भाई संतोख सिंह जी का रागी जत्था ज्ञानी जसपाल वीर सिंह जी गुरमत प्रचारक तथा हरमंदिर साहिब श्री अमृतसर से जसबीर सिंह खालसा जी का रागी जत्था विशेष तौर पर गुरबाणी का कीर्तन और गुरमत विचार तथा कथा करेंगे। समागम की समाप्ति पर सोसाइटी के सदस्यों द्वारा हरविंदर पाल सिंह नीटा तथा कुलदीप सिंह सलूजा की देखरेख में आलू पूरी, पुलाव, पकोड़े तथा हलवे का लंगर वितरित किया गया।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन