अन्तर्राष्ट्रीय मुख्य न्यायाधीश सम्मेलन का तीसरा दिवस आज

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल द्वारा आयोजित ‘विश्व के मुख्य न्यायाधीशों के 22वे अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन’ के तृतीय दिवस पर आज प्रथम सेशन में उत्तर प्रदेश विधान सभा के डिप्टी स्पीकर, नितिन अग्रवाल ने मुख्य अतिथि के रूप में अपनी उपस्तिथि दर्ज करी।

दोपहर के सेशन में मुख्य अतिथि के रूप में डॉ दिनेश शर्मा,उप मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश सरकार ने संबोधित किया। आज शाम को तीसरे सेशन के मुख्य अतिथि उत्तर प्रदेश सरकार के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक होंगें। उक्त जानकारी सी.एम.एस. के संस्थापक एवं कांफ्रेंस के कन्वेनर, डॉ जगदीश गाँधी ने दी। डॉ गाँधी ने बताया कि ‘विश्व के मुख्य न्यायाधीशों का अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन’ 19 से 22 नवम्बर तक ऑनलाइन आयोजित किया जा रहा है, जिसमें 50 देशों मुख्य न्यायाधीश, न्यायाधीश व कानूनविद् प्रतिभाग कर रहे हैं। इसके अलावा, विभिन्न देशों के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, संसद के अध्यक्ष, न्यायमंत्री, संसद सदस्य आदि अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं। ‘भारतीय संविधान के अनुच्छेद 51’ पर आधारित यह ऐतिहासिक सम्मेलन विश्व एकता, विश्व शान्ति एवं विश्व के ढाई अरब से अधिक बच्चों के सुन्दर एवं सुरक्षित भविष्य को समर्पित है।
 
सम्मेलन में कोरोना महामारी के बाद की वैश्विक विश्व व्यवस्था पर विशेष रूप से चर्चा-परिचर्चा की जायेगी। डॉ गाँधी ने बताया कि सम्मेलन के प्रतिभागी देशों में अल्जीरिया, अर्जेन्टीना, आस्ट्रेलिया, अजरबैजान, बोस्निया एण्ड हर्जेगोविना, ब्राजील, बुरूण्डी, केप वर्डे, कैमरून, कोमोरोस, कोस्टारिका, क्रोएशिया, इक्वाडोर, इजिप्ट, इश्वातिनी, फिजी आइसलैण्ड, जर्मनी, घाना, गुयाना, हैती, इटली, जापान, किर्गिज रिपब्लिक, लेसोथो, माल्टा, मैक्सिको, मॉरीशियाना, मंगोलिया, मोरक्को, म्यांमार, नेपाल, नीदरलैण्ड, पेरू, फिलीपीन्स, रोमानिया, रूस, स्लोवेनिया, साउथ अफ्रीका, साउथ कोरिया, श्रीलंका, सूरीनाम, स्विटजरलैण्ड, थाईलैण्ड, त्रिनिदाद एण्ड टोबैगो, तुवालू, यूक्रेन, यूनाइटेड किंगडम, यू.एस.ए., युगाण्डा एवं भारत प्रमुख हैं।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन