समाजवादी सरकार बनने पर किसानों का होगा सम्मान

लखनऊ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज बुढ़ाना में आयोजित कश्यप महासम्मेलन में कहा कि विधान सभा चुनाव में इंकलाब होगा और 2022 में बदलाव होगा। प्रदेश में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने जा रही है। समाजवादी पार्टी के साथ हर वर्ग का समर्थन है। यादव ने कहा कि समाजवादी सरकार बनने पर किसानों का सम्मान होगा। नौजवानों को नौकरी मिलेगी। महंगाई कम होगी। बिजली के बिल से किसानों, बुनकरों को राहत मिलेगी। सिंचाई मुफ्त करेंगे। पढ़ाई का अच्छा इंतजाम किया जायेगा।
 
उन्होंने भरोसा दिलाया कि समाजवादी पार्टी की सरकार में कश्यप समाज से लेकर सभी वर्गों का सम्मान होगा। कश्यप समाज की जो 18 सूत्री मांगे हैं उन पर विचार किया जाएगा। किसान, पिछड़े, अगड़े, दलित, अल्पसंख्यकों सहित सभी वर्गों की बड़े पैमाने पर भागीदारी रहेगी। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सबसे बड़ी परिवारवादी पार्टी है। भाजपा को अपना परिवारवाद नहीं दिखाई देता है। समाजवादी पार्टी समाजवादी परिवार हैं। हम सभी समाजवादी परिवार के लोग है। समाजवादी पार्टी लगातार लोगों को जोड़ने का काम कर रही है। कई छोटे दलों को भी साथ लिया है। अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों-नौजवानों-पिछड़ों-दलितों, अगड़ों सभी को धोखा दिया है। ये नफरत फैलाने वाले समाज में खाईं पैदा करने वालें लोग है। उन्होंने कहा कि जो सरकार पिछड़ों की गिनती नहीं करा सकती है वो हक और सम्मान नहीं देगी। भाजपा पिछड़ों का आरक्षण छीन रही है।
 
समाजवादी सरकार आने पर पिछड़ों की गिनती कराकर भागीदारी और सम्मान दिया जाएगा। यादव ने कहा कि भाजपा सरकार झूठ बोलने वाली, सरकारी सम्पत्तियों को बेचने वाली सरकार है। भाजपा सरकार में अन्याय और भ्रष्टाचार कई गुना बढ़ गया है। कानून व्यवस्था की तारीफ करने वाले मुख्यमंत्री अपने शहर में लोगों की रक्षा नहीं कर पाए। जेल में जेलर पिट गए। पुलिस हिरासत में युवक की मौत हुई। गोरखपुर में व्यापारी की हत्या कर दी गई। कासगंज में युवक की पुलिस ने हत्या कर दी। सबसे ज्यादा हिरासत में मौतें यूपी में हो रही है। इसके लिए भाजपा सरकार जिम्मेदार है। यादव ने कहा कि प्रदेश को गप्प वाली नहीं योग्य सरकार चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों को अपमानित किया है। खाद का इंतजाम नहीं किया। खाद, कीटनाशक सब महंगा कर दिया है। प्रदेश में डीएपी समेत अन्य खादों की कमी है। भाजपा सरकार ने किसानों पर तीन काले कृषि कानून भी थोप दिए है।
 
इन कानूनों के लागू होने के बाद किसान अपने खेत में मजदूर बन जाएगा। उद्योगपति किसानों की जमीन पर कब्जा कर लेंगे। भाजपा ने किसानों की आय दुगनी करने का वादा किया था लेकिन महंगाई बढ़ा दी। किसानों की आय घट गई है। यादव ने कहा कि इन काले कानूनों से किसानों का भला नहीं होगा। किसानों को बाजार के हवाले नहीं छोड़ा जा सकता है। भाजपा सरकार ने किसानों-नौजवानों के सामने संकट पैदा कर दिया है। मुख्यमंत्री अपना घोषणा पत्र नहीं पढ़ते हैं। भाजपा के संकल्प पत्र में 70 लाख नौकरी देने की बात की गयी लेकिन कितनी नौकरी दी? अखिलेश यादव ने कहा कि पूर्वांचल के लोगों ने भाजपा के लिए दरवाजा बंद कर दिया है। अब पश्चिमी यूपी के लोग भी भाजपा के लिए दरवाजा बंद कर देंगे। किसान-नौजवान, पिछड़े, अगड़े, दलित, अल्पसंख्यक सभी मिलकर इस बार भाजपा का सफाया कर देंगे।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन