देश भर में धूमधाम से मनाया जा रहा है छोटी-दीपावली और नरक चतुर्दशी का पर्व

अयोध्या। देश भर में आज छोटी-दीपावली, हनुमान जयंती नरक चतुर्दशी का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। राम की नगरी अयोध्या आज हनुमान जयंती के अवसर पर बजरंगबली के भक्ति में डूबी हुई है। आज अयोध्या में दीपोत्सव कार्यक्रम के साथ-साथ हनुमान जयंती पर्व का भी लोगों में उत्साह व उमंग है। इस साल हनुमान जयंती व छोटी दीपावली बुधवार को है। इस मौके पर हनुमानगढ़ी मंदिर के महंत संत रामदास जी ने बताया कि मान्यताओं व कथाओं के अनुसार रावण वध करने के बाद भगवान राम अपने 14 वर्ष का वनवास पूरा करके अयोध्या आ रहे थे।
 
उनके इस आगमन की सूचना अयोध्या वासियों को आने के एक दिन पहले हनुमान जी द्वारा अयोध्या वासियों को दिया गया। कहा जाता है कि अयोध्यावासी अपने राम के आगमन को सुनकर इतना प्रसन्न हुए कि बजरंगबली उस दृश्य देखकर बोले कि आज मेरा पुनर्जन्म हो गया है। कहा जाता है कि उस दिन लोगों ने बजरंगबली की पूजा की थी। तभी से छोटी दीपावली के दिन हनुमान जयंती का भी पर्व पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाता है।अयोध्या में हनुमान जयंती का अपना विशेष महत्व है। यहां का हनुमानगढ़ी स्थित हनुमान मंदिर अपनी भव्यता व ऐतिहासिकता के लिए जाना जाता है। इस दिन हनुमानगढ़ी मंदिर में बजरंगबली का विशेष श्रृंगार किया जाता है। इस शुभ अवसर पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है।
 
इस दिन मंदिर में हनुमान जी का विशेष अभिषेक करने के साथ-साथ महाआरती भी किया जाता है। इसके अलावा भक्तों में प्रसाद आदि का वितरण किया जाता है। हनुमानगढ़ी मंदिर की तिजोरी पूरे वर्ष में सिर्फ एक ही बार हनुमान जयंती वाले दिन खोली जाती है। इस दिन दानपेटियो व तिजोरियों को खोल कर इनसे मिलने वाले पैसे-रुपए, सोने चांदी, कीमती धातु व आभूषण सहित अन्य सामानों को एकत्र करके उन्हें बैंक ले जाकर जमा किया जाता है। इसके अलावा इन्हीं तिजोरियों से मिलने वाले आभूषणों से ही बजरंगबली का दिव्य श्रृंगार किया जाता है। इसके अलावा अयोध्या के हनुमान-किला, हनुमान-बाग, हनुमान-निवास सहित अन्य सभी हनुमान मंदिरों में हनुमान जयंती धूमधाम से मनाया जा रहा है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन