रायबरेली से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की

लखनऊ उत्तर प्रदेश 2022 विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी की बागी विधायक अदिति सिंह ने सभी कयासों पर पूर्ण विराम लगा दिया है। रायबरेली की सदर सीट से विधायक अदिति सिंह ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय में कांग्रेस विधायक अदिति सिंह के साथ आजमगढ़ जिले के सगड़ी विधानसभा से बसपा विधायक वंदना सिंह को भी भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता दिलाई है। इस मौके पर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी समेत तमाम बीजेपी के नेता मौजूद रहे।

पिछले 2017 विधानसभा चुनाव में अदिति सिंह ने पिता अखिलेश सिंह की राजनीतिक विरासत संभाली। उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर रायबरेली की सदर सीट से विधानसभा चुनाव लड़कर शानदार जीत दर्ज की। इस सीट से अदिति के पिता अखिलेश सिंह पांच बार विधायक रह चुके है। लेकिन 2019 अगस्त में अदिति के पिता का निधन हो गया। पिता के निधन के बाद अदिति सिंह की कांग्रेस से दूरियां बढ़ती दिखाई दी। इस दौरान कई मौकों पर अदिति ने योगी सरकार की नीतियों की सराहना की। वहीं कई मामलों को लेकर अदिति ने कांग्रेस और उनके नेताओं पर तीखा हमला भी बोला है।

 


अदिति सिंह के बीजेपी में शामिल होने के कारण अब उनके विधायक पति अंगद सिंह सैनी को बड़ा नुकसान हो सकता है। अंगद पंजाब की नवांशहर सीट से कांग्रेस से विधायक हैं। बता दें, रायबरेली जहां से अदिति सिंह आती है वो रायबरेली लोकसभा सीट से कांग्रेस का गढ़ मानी जाती है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी इस सीट से लोकसभा चुनाव लगातार जीतती आ रही हैं। ऐसे में कांग्रेस से बगावत कर बीजेपी में जाना अदिति के पति अंगद को असहज स्थिति में डाल सकता है। अदिति ने 21 नवंबर 2019 को पंजाब के कांग्रेस से विधायक अंगद सिंह सैनी से शादी की थी।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन