उद्घाटन समारोह से पहले मुख्यमंत्री ने दो बार पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का किया निरीक्षण

 
पीएम पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के उद्घाटन समारोह से पहले मुख्यमंत्री ने दो बार पूर्वांचल एक्सप्रेस का निरीक्षण किया है.... बड़ी जनसभा का भी आयोजन है और इंडियन एयरवेज ने भी बड़ी तैयारी कर रखी है इंडियन एयरवेज के टेक्निकल टीम के सपोर्ट से ही उनकी राय आदि के बाद ही निर्माण हुआ है.... मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा थी कि समय से पहले कम दाम में ऐसी एक्सप्रेस वे बनाने की मंशा थी जो अब पूरी होती दिख रही है।
 
गाजीपुर से लखनऊ में 3:30 घंटे में आप पहुंच सकते हैं यह बहुत बड़ी उपलब्धि है सिक्स लेन का यह रोड बना तो है पर उसके अगल-बगल 8 लेन की अतिरिक्त व्यवस्था की गई है.... इसकी निर्धारित एक्सप्रेस वे की स्पीड 100 किलोमीटर है 402 किलोमीटर सर्विस लेन है वाहनों को ईंधन भरने के लिए पेट्रोल पंप दे दिया गया है इसमें रिलायंस इंडियन आयल शामिल है.... पुलिस पेट्रोलिंग के लिए 112 स्थापित कर दी गई है पुलिस चौकी भी बनाई जाएंगी, इसके अतिरिक्त आज एक नया आदेश मुख्यमंत्री ने किया कि इस में हेलीपैड भी बनाया जाएगा जिससे सभी फाइटर प्लेन भी उतर सके।
 
इसमें हर प्रकार के जहाज उतारे जा सकते हैं कुल 22000 करोड़ से ज्यादा का प्रोजेक्ट है इसमें हम 20000 करोड़ से ज्यादा का खर्च कर चुके हैं 92 प्रतिशत से ज्यादा फाइनेंशियल खर्च कर चुके हैं लो लैंड एरिया ज्यादा होने की वजह से बारिश की वजह से भी कार्य में प्रभाव पड़ा कोविड-19 के रहते हुए भी किसी प्रकार की डिजाइन व कार्यक्षमता आदि में कोई प्रभाव नहीं पड़ा.... आज पूर्वांचल में इस बात की खुशी है कि दिल्ली जाने के लिए हम अब सीधे जा सकेंगे पूर्वांचल एक्सप्रेस वे बिहार के लिए भी एक बड़ा रास्ता बन गया है जिससे बिहार भी कनेक्ट हो गया है।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर