केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण लखनऊ में करेंगी भव्य ‘प्रत्यक्ष कर भवन’ उद्घाटन

लखनऊ केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी लखनऊ में केंद्रीय अप्रत्क्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड के अलंकरण समारोह,2021 के अवसर पर विजेताओं को राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित करेंगे। केंद्रीय वित्त मंत्री लखनऊ के नवनिर्मित कार्यालय 'प्रत्यक्ष कर भवन' 57 रामतीर्थ मार्ग,लखनऊ का उद्दघाटन भी करेंगी .वर्ष 2017 में भवन निर्माण के लिए मेसर्स एन.बी.सी.सी के साथ समझौता जापन पर हस्ताक्षर किए गए।

अंतिम रूप वर्ष 2020 को एन.बी.सी.सी से इस भवन का कब्जा लिया गया। यह भवन सर्वोत्तम वैश्विक तकनीक द्वारा निर्मित किया गया है। 86,483 स्क्वायर फीट की भूमि पर बना यह भवन 7 मंजिला है। जिसमें से भवन का निर्मित क्षेत्रफल 21,527 स्क्वायर फीट है और सभी सात मंजिलों के लिए निर्मित क्षेत्रफल अनुमानतः 130000 स्क्वायर फीट है जिसमें से दो बेसमेंट (कार पार्किंग एवं रिकार्ड रूम) बनाए गए हैं। इस भवन में अनुमानतः 150 अधिकारियों एवं 350 कर्मचारियों के बैठने की क्षमता है। इसके अतिरिक्त इस भवन में 180 व्यक्तियों की क्षमता वाला एक अत्याधुनिक प्रेक्षागृह और 3 सम्मेलन कक्ष भी हैं। 7वीं मंजिल पर एक अतिथि गृह है जिसमें वरिष्ठ अधिकारियों के लिए 2 सुइट बनाए गए हैं और अन्य अधिकारियों के लिए 9 कमरों के साथ साथ उस तल पर जिम, रीडिंग लाउंज एवं अत्याधुनिक किचन बना है। भवन में एक बड़ी लाइब्रेरी एवं महिला कर्मचारियों के बच्चों के लिए क्रेच की सुविधा भी उपलब्ध है।


यह एक हरित भवन है जिसमें निम्नलिखित विशेषताएँ है:-
• भवन में स्थापित सौर पैनलों के माध्यम से अनुमानतः 20 % बिजली उत्पन्न होती है।
• यह भवन पारिस्थितिक तंत्र में बिना कोई अवरोध उत्पन्न किए पारिस्थितिक अनुकूल भवन है।
• प्राकृतिक प्रकाश के वेंटिलेशन और सोलर पैसिव डिजाइन होने के नाते भवन में पर्याप्त प्रकाश एवं हवा का प्रवाह रहता है। कचरे के उपयोग एवं निस्तारण की पर्यास व्यवस्था की गई है।
• भवन एवं आसपास का वातावरण विषाक्त पदार्था से मुक्त है ।
• भवन में बैठने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों की सुविधाओं के साथ बिना कोई समझौता किए भवन में कम से कम ऊर्जा एवं पानी की खपत की व्यवस्था की गई है।


न्यूनतम नुकसान सुनिश्चित करने के लिए उपयोगी फर्नीचर का अधिकतम प्रयोग किया गया है। प्रत्यक्ष कर भवन की साज-सज्जा हरित भवन के अनुसार की गई है। भवन की साज-सज्जा पारिस्थितिक तंत्र और हरित भवन की विशेषताओं के अनुरूप की गई है। प्रत्यक्ष कर भवन में बी.एस.एन.एल द्वारा द्रुतगामी इंटरनेट सेवा प्रदान की गई है। प्रत्यक्ष कर भवन की लैंडस्केपिंग एवं हरित पट्टी को आसपास के वातावरण और आवश्यकता के अनुरूप बनाया गया है। वर्तमान में प्रत्यक्ष कर भवन परिसर की सुरक्षा एवं संरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए विभाग द्वारा कांट्रैक्ट पर लिए गए सुरक्षा गार्डों के अतिरिक्त पी.ए.सी की एक चौकी भी स्थापित की गई है। सम्पूर्ण भवन के सहज एवं सुरक्षित प्रचालन तथा भवन में स्थापित किए गए उपकरणों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की ज़िम्मेदारी सी.पी.डबल्यू.डी को दी गई है  कुल मिलाकर लखनऊ के आयकर अधिकारियों की अपेक्षा के अनुरूप प्रत्यक्ष कर भवन सभी अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित है।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन