आचार्य स्मृति दिवस पर फिरोज गांधी कालेज सभागार में हुआ भव्य कार्यक्रम

रायबरेली। आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी की स्मृति में आयोजित सम्मान समारोह में देश के विभिन्न राज्यों से आए कोरोना योद्धाओं को खचाखच भरे सभागार में सम्मानित किया गया। योद्धाओं की गाथा सुनकर लोगों की आंखों में आंसू आ गए। योद्धा भी भाव विह्वल हो गए।

आचार्य स्मृति दिवस के उपलक्ष्य में फिरोज गांधी कालेज सभागार में आचार्य द्विवेदी राष्ट्रीय स्मारक समिति की ओर से आयोजित कार्यक्रम में समाजसेवी मुकेश बहादुर सिंह ने सभी का स्वागत करते हुए कहा कि कोरोना के दौरान लोगों की जान बचाने वाले यह योद्धा देश के प्रेरणा स्रोत हैं। नई दिल्ली से आए वरिष्ठ पत्रकार संजीव कुमार ने योद्धाओं के सम्मान में उमड़े जनसमूह का उल्लेख करते हुए कहा कि रायबरेली ने इन्हें योद्धाओं के प्रति असली सम्मान प्रकट किया है। महाराष्ट्र से आए कोरोना योद्धा राहुल तिवरेकर ने कहा कि कोरोना संक्रमण के दौरान आदिवासियों कि सेवा का संकल्प एक कठिन काम था लेकिन दिगंत स्वराज फाउंडेशन के स्वयंसेवकों ने आदिवासियों के बच्चों की पढ़ाई जारी रखने की चुनौती स्वीकार की और 70 गांवों के करीब 2000 आदिवासी बच्चों की पढ़ाई स्पीकर के माध्यम से कराई गई।
 
गुजरात के सूरत शहर से आए कोरोना योद्धा अजय राय पलायन करने वाले मजदूरों की सेवा के बीच ही छोटे भाई के हुए निधन की बात कहते हुए रो पड़े। उनकी गाथा सुनकर लोग भी भाव विह्वल हो गए। मणिपुर के कोरोना योद्धा मथनमी हुंग्यो ने बताया कि पहाड़ों में लॉकडाउन के दौरान भूखे लोगों को राशन पहुंचाना कितना कठिन था? उन्होंने कहा कि लोगों के सहयोग से राशन एकत्र कर गांवों में फंसे लोगों को जीवन दिया गया। पंजाब के कोरोना योद्धा हरजीत सिंह गिल ने उस वाकये का भाव पूर्ण वर्णन किया जब तलवार से लैस निहंगों ने हमला कर हाथ की कलाई काट दी थी। इस गाथा को सुनकर सब के रोंगटे खड़े हो गए। लखनऊ की कोरोना योद्धा वर्षा वर्मा ने कहा कि लॉकडाउन संक्रमित शवों का अंतिम संस्कार करा कर सम्मान से अंतिम विदाई के लिए "एक कोशिश ऐसी भी अभियान.." चलाया गया। एक साधन संपन्न दोस्त की मौत के बाद एंबुलेंस मिलने में आई कठिनाई ने इस काम के लिए प्रेरित किया। उनको एंबुलेंस की मुफ्त सेवा भी उपलब्ध कराई गई।
 
समिति के अध्यक्ष विनोद शुक्ला ने रूपरेखा प्रस्तुत की और कोषाध्यक्ष विनय द्विवेदी ने अभियान पर प्रकाश डाला। महामंत्री अनिल मिश्रा ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। इस मौके पर डॉ आर. एस. मालवीय, पीएनबी के सर्किल हेड रोहिताश्व इंद्रायण,  डॉ ज्ञानेंद्र चतुर्वेदी, डॉक्टर अमिता खुबेले, राजीव भार्गव, मुक्ता भार्गव, निर्मल सिंह, राजेश वर्मा, डॉ रुचि सिंह, महेश प्रताप सिंह, वीरेंद्र विक्रम सिंह भाजपा नेता अजय त्रिपाठी, डॉ मनीष चौहान राकेश भदोरिया, सभासद एसपी सिंह, डॉक्टर बृजेश सिंह, सुनील ओझा, अमर द्विवेदी, सुधीर द्विवेदी, राकेश मोहन मिश्रा, स्वतंत्र पांडे, राजेश द्विवेदी, घनश्याम मिश्रा, अभिषेक मिश्रा आदि उपस्थित रहे। आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी राष्ट्रीय स्मारक समिति की ओर से पटियाला पंजाब से आए हरजीत सिंह गिल को प्रभाष जोशी स्मृति सम्मान प्रदान किया गया। महाराष्ट्र के कोरोना योद्धा राहुल तिवरेकर को डॉक्टर राम मनोहर त्रिपाठी लोक सेवा सम्मान,  मथनमी हुंग्यो को शिवानंद मिश्र लाले सम्मान और अजय राय को सरिता द्विवेदी स्मृति सम्मान से सम्मानित किया गया।
 
 
पद्मश्री पुरस्कार मिलने की वजह से नई दिल्ली के कोरोना योद्धा जितेंद्र सिंह शंटी नहीं आ पाए। पुणे ऑनलाइन आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी युग प्रेरक सम्मान दिया गया। उनका वीडियो मैसेज सभागार में सुनाया गया। आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी राष्ट्रीय स्मारक समिति की ओर से प्रति वर्ष प्रकाशित की जाने वाली स्मारिका "आचार्य पथ" का विमोचन कोरोना योद्धाओं और समाजसेवी मुकेश बहादुर सिंह ने किया। संपादक आनंद स्वरूप श्रीवास्तव ने स्मारिका के विषय में विस्तार से बताया। इस मौके पर अरुण कुमार सिंह भी मौजूद रहे। कोरोना योद्धाओं के सम्मान समारोह के पहले शहर के सुपर मार्केट से शोभा यात्रा निकाली गई। कोरोना योद्धाओं के सम्मान में पूरा शहर उमड़ पड़ा। योद्धाओं को फूल मालाओं से लाद दिया गया। पुलिस अधीक्षक श्लोक कुमार ने देश भर से आए कोरोना योद्धाओं के काम की तारीफ करते हुए कहा कि संकट से उबारने में इनकी अहम भूमिका रही। शोभायात्रा शुरू होने के पहले पीएससी बैंड ने राष्ट्रीय धुन बजाई। 
 
एनसीसी और स्काउट गाइड ने योद्धाओं को सलामी दी। गुरु तेग बहादुर मार्केट व्यापार मंडल, व्यापारी नेता बसंत सिंह बग्गा, मनोज गुप्ता, रोटरी क्लब की ओर से उमेश सिकरिया, विभिन्न खेल संघों की ओर से मुन्ना लाल साहू हिमांशु तिवारी, ममता पांडे अनुपमा रावत आदि ने पुष्प वर्षा कर योद्धाओं का स्वागत किया। सुपर मार्केट से सभागार तक योद्धाओं का जगह-जगह फूल मालाओं से स्वागत किया गया। योद्धाओं पर पुष्प वर्षा हुई। योद्धाओं ने शहीद चौक पर शहीदों की याद में दीपदान किया। शहीद चौक पर क्षमता मिश्रा अपनी महिला साथियों के साथ उपस्थित रहीं। इस मौके पर अभिषेक द्विवेदी करुणा शंकर मिश्रा नीलेश मिश्रा अभिषेक मिश्रा पीयूष द्विवेदी अजय दीक्षित शिखर द्विवेदी शिखर अवस्थी, यशी अवस्थी, कल्याणी मिश्रा, जागृति मिश्रा, तान्या सिंह आदि ने कोरोना योद्धाओं का स्वागत किया।
 
आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी राष्ट्रीय स्मारक समिति की अमेरिकी इकाई की ओर से हिंदी दिवस के उपलक्ष में आयोजित की गई अंतरष्ट्रीय काव्य पाठ प्रतियोगिता में प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले रजत द्विवेदी उन्नाव अचिंत्य शाही लखनऊ और कात्यायनी त्रिवेदी रायबरेली को पुरस्कृत किया गया। समिति की ओर से उन्हें प्रमाण पत्र और नकद पुरस्कार दिए गए। समिति की अमेरिकी इकाई की अध्यक्ष मंजु मिश्रा ने और रचना श्रीवास्तव ने सभी विजेता बच्चों को बधाई दी।

Popular posts from this blog

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन