भाजपा 19 दिसम्बर से शुरू करेगी छह स्थानों से जन विश्वास यात्रा

लखनऊ भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शनिवार को बताया कि पार्टी 19 दिसम्बर को प्रदेश के छह स्थानों से अपनी जन विश्वास यात्रा शुरू करने जा रही है। इनके स्थान बिजनौर, मथुरा, झांसी, अम्बेडकर नगर, बलिया और गाजीपुर से शुरू होगी। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा हिन्दू राजा महाराजा सुहेलदेव राजभर और रामायण मेला के प्रणेता डॉ. राममनोहर लोहिया की जन्मस्थली अम्बेडकरनगर से जन विश्वास यात्रा को संबोधित कर रवाना करेंगे।

यात्रा शुभारंभ सभा में प्रदेश चुनाव प्रभारी व केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान व कौशल किशोर उपस्थित रहेंगे। यात्रा अंबडेकर नगर से अयोध्या, गोंडा, बलरामपुर, श्रावस्ती, बहराइच, लखीमपुर, सीतापुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, बाराबंकी होते हुए लखनऊ के काकोरी में समाप्त होगी। उन्होंने बताया कि मथुरा धाम से शुरू हो रही है। यात्रा का उद्घाटन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किया जाएगा। यात्रा शुभारंभ सभा में केंद्रीय मंत्री डॉ० महेन्द्र नाथ पाण्डेय, संतोष गंगवार एवं एटा के सांसद राजवीर सिंह ‘राजू भैया‘ उपस्थित रहेंगे। यात्रा मथुरा से अलीगढ़, हाथरस, आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, कासगंज, बदायूं, शाहजहांपुर, पीलीभीत होते हुए बरेली में समाप्त होगी, उन्होंने कहा कि बिजनौर के विदुर कुटी से शुरू हो रही यात्रा का शुभारंभ केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी द्वारा किया जाएगा। यात्रा शुभारंभ सभा में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान भी उपस्थित रहेंगे। बिजनौर से मुजफ्फरनगर, सहारनपुर, शामली, बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, बुलंदशहर, हापुड़, अमरोहा, मुरादाबाद, संभल से होते हुए रामपुर में समाप्त होगी।

प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि रानी लक्ष्मीबाई की नगरी झांसी से शुरू हो रही यात्रा का शुभारंभ केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह द्वारा किया जाएगा। यात्रा शुभारंभ सभा में उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा व केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति भी उपस्थित रहेंगी। यात्रा झांसी से ललितपुर, महोबा, बांदा, चित्रकूट, फतेहपुर, हमीरपुर, जालौन, औरैया, इटावा, फर्रुखाबाद, कानपुर देहात होते हुए कानपुर में समाप्त होगी। उन्होंने जानकारी दी कि भृगु ऋषि और क्रांति की धरा बलिया से शुरू हो रही यात्रा का शुभारंभ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा किया जाएगा। यात्रा शुभारंभ सभा में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह एवं दारा सिंह चौहान भी उपस्थित रहेंगे। यात्रा बलिया से होते हुए मऊ, आज़मगढ़, गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर, महराजगंज, सिद्धार्थनगर, संतकबीरनगर, बस्ती तक जाएगी। सिंह ने बताया कि महर्षि जमदग्नि की नगरी और लहुरी काशी के नाम से प्रसिद्ध गाजीपुर से शुरू हो रही यात्रा का शुभारंभ केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा किया जाएगा। यात्रा शुभारंभ सभा में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य एवं बृजेश पाठक भी उपस्थित रहेंगे। यात्रा गाजीपुर से शुरू होकर चंदौली, सोनभद्र, मिर्ज़ापुर, प्रयागराज, कौशाम्बी, प्रतापगढ़, भदोही, वाराणसी, जौनपुर, सुल्तानपुर होते हुए अमेठी में समाप्त होगी।

उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव के पूर्व निकाली जाने वाली इन यात्राओं के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी केंद्र सरकार की 7.5 वर्षों की उपलब्धि और 5 वर्षों की प्रदेश सरकार की उपलब्धियों को जनता के बीच लेकर जाएगी। कहा कि 2017 के चुनावों से पहले हमने यात्रा निकाली थी तब हमने पूर्ववर्ती सरकार की खामियों को उजागर करते हुए हम जनता के बीच गए थे। इस बार हम अपनी उपलब्धियां बताने और जनता का आशीर्वाद लेने फिर से उनके बीच जा रहे हैं। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि हम सब जानते हैं कि आजादी के बाद मोदी जी ने देश की परंपरागत चली आ रही राजनीति को भाई-भतीजावाद, क्षेत्रवाद, भाषावाद, जातिवाद, मत और मजहब के दायरे में कैद होकर चली आ रही राजनीति को बदला है। उन्होंने उसे गांव के लिए, गरीब के लिये, किसानों के लिए, नौजवानों के लिए, महिलाओं के लिए गरीब कल्याण के लिए और एक नये भारत को स्थापित करने के लिए जिस अभियान को आगे बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि आज वह प्रत्येक नागरिक की जुबान पर सुनायी देता है। इस बारे में राजनैतिक दल व उनके लोग भले ही बात न करते हों लेकिन समाज के आम आदमी भी उनकी गरीब कल्याण की योजनाओं से प्रसन्न है। समाज के अंतिम व्यक्ति तक बिना भेदभाव के योजनाओं का लाभ पहुंच रहा है। हम उनके इसी विजन को लेकर 2017 से जनता के हित के लिए, गरीब कल्याण की योजनाओं को सफलता पूर्वक धरातल पर उतारने में सफल रहे हैं।

उन्होंने बताया कि 2017 से पहले के उत्तर प्रदेश के बारे में सब लोग जानते हैं। पहले दंगे होते थे, माफिया तबाही मचाई हुए थे, आम आदमी अपने अधिकारों से जबरिया वंचित था। 1947 से 2017 तक के बीच प्रदेश में केवल डेढ़ एक्सप्रेसवे बने थे। आज उत्तर प्रदेश की गिनती एक्सप्रेवे प्रदेश के रूप में है यहां छह एक्सप्रेस वे बन रहे हैं। आज चार शहरों से मेट्रो चल रही है, दो नए एम्स बने हैं। प्रदेश नई बढ़त के।साथ आगे बढ़ रहा है। डबल इंजन की सरकार का लाभ प्रदेशवासियों को मिल रहा है। सिंह ने कहा अब सब लोग अब अयोध्या जाना चाहते हैं, काशी अब विश्व पटल पर नजर आ रही है। यहां सांस्कृतिक विरासत को विकसित किया गया है। इन यात्राओं के माध्यम से हम प्रदेश की 25 करोड़ जनता के बीच भाजपा के केंद्र व राज्य सरकार के जनकल्याणकारी कार्यों और उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच लेकर जाने वाले है, सभी कार्यकर्ता अपने जनपदों में इसकी तैयारी करें। यह यात्रा जातिवाद, तुष्टिकरण और वंशवाद की सीमाओं को तोड़ देगी। प्रदेश अध्यक्ष ने बताया छह यात्राएं प्रदेश की सभी 403 विधानसभा क्षेत्रों से होते हुए जाएंगी। हम जो कहते हैं वो करते हैं जनता यह जानती और मानती भी है। हम अपने देवतुल्य कार्यकर्ताओं के की मेहनत, केंद्र की मोदी व राज्य की योगी सरकार के जनकल्याणकारी कार्यों और जनता के आशीर्वाद से दोबारा 300$ सीटों के साथ सरकार बनाने जा रहे हैं।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन