ब‍िना तथ्‍य और प्रमाण के मुकदमे दर्ज करा रही है योगी सरकार- संजय स‍िंह

लखनऊ आम आदमी पार्टी के राष्‍ट्रीय संयोजक एवं द‍िल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरव‍िंद केजरीवाल दो जनवरी को लखनऊ आएंगे। प्रदेश के करीब 34 लाख पंजीकृत बेरोजगारों के ल‍िए वह लखनऊ की जमीन से बड़ा वादा करेंगे। केजरीवाल की पहली गारंटी थी- 300 यूनिट बिजली फ्री, पुराने बकाया ब‍िजली बिल माफ, किसानों की बिजली मुफ्त और 24 घंटे बिजली, तो अब वह नौजवानों को ₹5000 प्रत‍िमाह बेरोजगारी भत्ता और 10 लाख नौकरी हर साल प्रदान करने की दूसरी गारंटी देने आ रहे हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल दो जनवरी को लखनऊ में महारैली करके यूपी में चुनाव अभियान की शुरुआत करेंगे।
 
ये बातें आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रभारी राज्‍यसभा सदस्‍य संजय स‍िंह ने प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह के साथ गुरुवार को प्रदेश कार्यालय में प्रेसवार्ता के दौरान कहीं। इस मौके पर संजय स‍िंंह ने खुद पर फर्जी एफआईआर दर्ज कराने को लेकर योगी सरकार पर न‍िशाना भी साधा। उन्‍होंने कहा क‍ि आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरव‍िंंद केजरीवाल उत्तर प्रदेश में रोजगार गारंटी की महारैली करके लखनऊ में दो जनवरी को युवाओं को एक संदेश देने का काम करेंगे। महारैली की तैयारी बैठक के लिए अभियान समिति बनाने का हम लोग करेंगे और 2 जनवरी की ऐतिहासिक रैली लखनऊ में होगी। जबसे यूपी की राजनीत‍ि में केजरीवाल की दखल हुई है, यहां मुद्दों की राजनीत‍ि पर बात होने लगी है। रोजगार जैसे अहम मुद्दे पर राजनीत‍िक चर्चा छ‍ि‍ड़े केजरीवाल की रैली इसका माहौल बनाने का काम करेगी। संजय स‍िंंह ने कहा क‍ि उत्तर प्रदेश के एंप्लॉयमेंट एक्सचेंज में 34 लाख बेरोजगार अपना नाम दर्ज करा चुके हैं। और उनको हम ₹5000 प्रतिमाह अगर देंगे जब तक वह बेरोजगार हैं तो इसमें करीब ₹1700 करोड़ प्रति माह और 20400 करोड रुपए साल का खर्च आएगा।
 
550 लाख करोड़ रुपए के बजट से मात्र 20400 करोड़ निकालना कोई असंभव काम नहीं है। यह सपना सिर्फ और सिर्फ आम आदमी पार्टी पूरा करके दिखाएगी। पहली बार उत्तर प्रदेश में नौजवानों के लिए ₹5000 प्रति माह बेरोजगारी भत्ते का एलान आम आदमी पार्टी ने करके दिखाया है। हम लोग जुमला नहीं बोलते जमीन पर उसको पूरा करके दिखाते हैं। आम आदमी पार्टी ने उत्तर प्रदेश के बेरोजगार नौजवानों के लिए एक बहुत बड़ा और महत्वपूर्ण ऐलान किया है। आम आदमी पार्टी की सरकार बनने के बाद प्रतिवर्ष 10 लाख नौकरियां बेरोजगार युवाओं को दी जाएंगी और जब तक इन बेरोजगार युवाओं को नौकरी नहीं दे लेते तब तक ₹5000 प्रति माह बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। मैं उत्तर प्रदेश के नौजवानों से अपील करना चाहता हूं कि आम आदमी की सरकार यानी अपनी सरकार बनाइए, मुकदमे और लाठी खाने की अब जरूरत नहीं है। नौकरी लीजिए और जब तक नौकरी नहीं मिलती तब तक बेरोजगारी भत्ता लीजिए। संजय स‍िंह ने कहा क‍ि पूरे प्रदेश में दो जनवरी को केजरीवाल के इस एलान को लेकर रोजगार गारंटी सभा का आयोजन क‍िया जाएगा। सभी 403 विधानसभा में यह आयोजन किया जाएगा। 

संजय स‍िंह ने कहा क‍ि मैं आदित्यनाथ से कहना चाहता हूं कि अगर आप मेरे ऊपर एफआईआर कराना और मुकदमे लिखवाना चाहते हैं तो लिखवाइए, लेकिन कम से कम ऐसे झूठे मुकदमे ना लिखवाइए जिसमें न कोई तथ्य न सबूत और ना ही प्रमाण हो। मैं आदित्यनाथ से पूछना चाहता हूं कि कितने मुकदमे आप करेंगे मेरे ऊपर ? मेरे ऊपर जो एफआईआर लोनी में हुई अगर आप उसको पढ़ेंगे तो उसमें एक शब्द भी इस बात का जिक्र नहीं है कि मैंने तिरंगे झंडे का अपमान कैसे कर दिया। इसके बावजूद मेरे ऊपर एफआईआर लिख दी गई। 18 मुकदमे पहले मेरे ऊपर लिखे जा चुके हैं। मेरे पार्टी का दफ्तर बंद करा दिया गया। घर में पुलिस वालों को भेज कर मेरी पत्नी को डराया धमकाया गया। राष्ट्रद्रोह लगा दिया मेरे ऊपर। आप क्या करना चाहते हैं। हमने तिरंगा यात्रा आगरा में निकाली, गाजियाबाद में निकाली वहां मुकदमा लिख दिया गया। आदित्यनाथ एक ही बार में आप मेरे ऊपर जितने मुकदमे लिखना चाहते हैं लिख दीजिए। आपकी मुझ से दुश्मनी है, भारत के तिरंगे से क्या दुश्मनी है आपकी ? तिरंगे का अपमान जिस दिन हम लोग करेंगे हमें चौराहे पर खड़ा करके गोली मार दीजिएगा, लेकिन ऐसे झूठे मुकदमे लिखवाना बंद करिए। आप जितने भी मुकदमा लिखवाना है लिखवाइए। लेकिन कम से कम तिरंगे के अपमान का झूठा मुकदमा तो ना लिखवाइए। यह कृत्‍य आपकी सरकार के चेहरे को बेनकाब करता है। कितनी दुर्भावना से आप लोग काम करते हैं यह इस बात का सबूत है।

संजय स‍िंह ने कहा क‍ि आम आदमी पार्टी आदित्यनाथ की सरकार से कहना चाहती है कि बच्चों के साथ इस प्रकार का भेदभाव ना करें। छोटे-छोटे बच्चों को न स्वेटर नसीब हो रहा है, न जूता मोजा नसीब हो रहा है। न ड्रेस मिल पाई है, न स्कूल बैग मिला है और न ही उनके परिजनों के खाते में आपका ₹1100 पहुंच पाया है। कड़ाके की ठंड में मासूम ठ‍िठुरते हुए स्‍कूल जाने को मजबूर हैं। योगी सरकार को उनकी तकलीफ नजर नहीं आ रही है। पहली बात तो इन सारे सामान का दाम कम से कम ₹2600 लगता हैl जिसमें दो ड्रेस एक स्वेटर एक जूता दो मोजा और एक स्कूल बैग खरीदना हैl मैंने यह खरीद कर दिखाया भी था। और आप ₹1100 दे रहे हैं वह भी परिजनों तक नहीं पहुंच पा रहा है। अगर ठंड में ठिठुरते बच्चों के स्वेटर जूता मोजा मुहैया कराने का फैसला अगर आदित्यनाथ की सरकार ने जल्द से जल्द नहीं पूरा किया तो पूरे उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी इस मुद्दे को लेकर आंदोलन करेगी और 1 दिन का धरना मैं स्वयं लखनऊ में दूंगा।

संजय स‍िंह ने कहा क‍ि बुधवार को एक पत्रकार के साथ गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी की ओर से अभद्रता हुई है। पूरे देश ने इसको देखा और इससे मोदी सरकार की छवि पर पता नहीं असर पड़ता है कि नहीं क्योंकि वह तो बेशर्म हो चुके हैं, लेकिन पूरी दुनिया में भारत की छवि खराब हो रही है कि कैसे लोगों के जिम्मे देश के कानून व्यवस्था की जिम्मेदारी है। संजय स‍िंह ने कहा क‍ि मैं गृह मंत्री और प्रधानमंत्री से कहना चाहूंगा कि आपको कितने सबूत चाहिए? मंत्री की गाड़ी ने 4 किसान और एक पत्रकार को कुचल कर मार दिया। मंत्री का बेटा इस समय अपराधी के तौर पर जेल में बंद है। एसआईटी की रिपोर्ट आ गई है, जिसमें कहा गया है कि यह सुनियोजित साजिश का हिस्सा था। और उसके पहले 25 सितंबर का वीडियो है गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी का, जिसमें वह खुलेआम कह रहे हैं कि मेरे बारे में पता कर लेना 2 मिनट में सुधार दूंगा, लखीमपुर छोड़ना पड़ जाएगा। यह बात सच है कि वह मंत्री बनने से पहले हत्या के मामले के अभियुक्त थे। जो व्यक्ति हत्या के मामले का अभियुक्त रहा है वह इस देश का गृह राज्य मंत्री है और उसकी गाड़ी से किसान और पत्रकार कुचलकर मार दिए जा रहे हैं। वह देश के गृह राज्य मंत्री हैं और पत्रकारों को गुंडों की तरह धमका रहे हैं। देख लूंगा, निपट लूंगा और तमाम तरह के अवांछनीय शब्दों का प्रयोग कर रहे हैं। यह एक गृह राज्यमंत्री का आचरण नहीं हो सकता और तो और पूरी की पूरी मोदी सरकार उनको बचाने में लगी हुई है। पूरी की पूरी मोदी सरकार हत्यारों को बचाने में लगी हुई है। मोदी सरकार का हाथ पूरी तरह से हत्यारों के पक्ष में है तथा पत्रकार और किसान के खिलाफ है।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

राष्ट्रीयता और नागरिकता में अंतर