‘‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’’ पद यात्रा का हुआ आयोजन

लखनऊ आज उत्तर प्रदेश की सम्पूर्ण 403 विधानसभाओं में ‘‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’’ पद यात्रा का आयोजन हुआ। जिसमें सभी विधानसभाओं के अधिकांश बूथों तक प्रियंका गांधी द्वारा जारी ‘‘शक्ति विधान महिला घोषणा पत्र’’ लोगों तक पहुंचाया गया। उक्त वक्तव्य देते हुए प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता कृष्णकांत पाण्डेय ने बताया कि महिलाओं के सम्मान में कांग्रेस पूरी तरह समर्पित है। आज भारतीय संसद और देश भर की विधानसभाओं में यदि देखा जाए तो महिलाओं का प्रतिनिधित्व 15 प्रतिशत से भी कम है।
 
मौजूदा लोकसभा में 14 प्रतिशत और राज्यसभा में 11.6 प्रतिशत सांसद महिलायें है। प्रियंका गांधी ने जो प्रतिज्ञा ली है। 40 प्रतिशत महिलाओं की हिस्सेदारी सुनिश्चित की जायेगी। छात्राओं को र्स्माट फोन तथा स्कूटी दिया जायेगां। इसे निश्चित पूरा करते हुए समाज के हर वर्ग में महिलाओं की हिस्सेदारी बढ़ाई जायेगी। प्रदेश प्रवक्ता ने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश की लेबर फोर्स में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाई जायेगी, बीस लाख नई सरकारी नौकरियों में आरक्षण के मौजूदा प्रावधानों के अनुरूप 40 प्रतिशत नौकरियां महिलाओं को दी जायेगी। व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में 50 प्रतिशत महिलाओं को नौकरी देने पर कर में छूट के साथ सहायता दी जायेगी। जिन महिलाओं का रोजगार कोविड-19 से प्रभावित हुआ उनके लिए वेतन सबसिडी शुरू की जायेगी। परिवहन विभाग में ड्राइवर आदि में महिलाओं के लिए विशेष कोटा आरक्षित किया जायेगा।
 
महिलाओं द्वारा व्यवसाय हेतु कम ब्याज दर पर कर्ज और टैक्स रिफंड देकर मदद की जायेगी। समस्त सरकारी कार्यालयों में शिशु गृह स्थापित किये जायेंगे। पाण्डेय ने आगे बताया कि घरेलू एवं वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला का महत्वपूर्ण हिस्सा होने के बावजूद महिलाओं के लिए अधिकांश रोजगार के विकल्प कम वेतन वाले हैं जो गहरी खाई पैदा करते हैं। इसे अवश्य समाप्त किया जायेगा। इन सारी बातों को समस्त विधानसभाओं में बताने का जन-जागरण चल रहा है। कांग्रेस पार्टी महिलाओं की सुरक्षा, समानता, सामाजिकता, राजनैतिक, अर्थव्यवस्था, स्वास्थ्य, शिक्षा, के क्षेत्र में समानता की पक्षधर है। कांग्रेस पार्टी सत्ता में आने पर प्रियंका गांधी के नेतृत्व एवं निर्देशन में राज्य में राशन की 50 प्रतिशत दुकानों का प्रबंधन एवं संचालन महिलाओं द्वारा कराया जायेगा। विकलांग महिलाओं के प्रशिक्षण और रोजगार के साधन मुहैया कराने के लिए विशेष विभाग की स्थापना की जायेगी।
 
पाण्डेय ने आगे बताया कि एनसीआरबी आकड़ो के मुताबिक हत्या, अपहरण, बच्चों के खिलाफ अपराध के सर्वाधिक मामलें उत्तर प्रदेश में हैं । औसतन 12 बलात्कार रोज होतें हैं। यह अत्यन्त दुर्भाग्य पूर्ण है। इसके लिए पुलिस बल में 25 प्रतिशत नौकरियां महिलाओं के लिए आरक्षित की जायेंगी ताकि हर पुलिस थाने में महिला कास्टेबल रहें जिससे महिलायें शिकायत दर्ज कराने यदि थाने जायें तो अपने को सुरक्षित कर सकें। किसी भी बिमारी के लिए प्रत्येक परिवार को 10 लाख का मुफ्त दिया जाने सहित महिलाओं के स्वाभिमान, स्वावलम्बन, शिक्षा, सम्मान, सुरक्षा, सेहत के क्षेत्र में किये जाने वाले कार्यो की प्रियंका द्वारा की गई प्रतिज्ञायें ‘‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’’ पद यात्रा के दौरान बतायी गई।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

त्वमेव माता च पिता त्वमेव,त्वमेव बन्धुश्च सखा त्वमेव!

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।  नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।