गन्ना माफियाओं को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा- गन्ना आयुक्त


लखनऊ। प्रदेश के आयुक्त, गन्ना एवं चीनी संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि गन्ना समिति के बागपत के राजकीय गन्ना पर्यवेक्षक सुनील कुमार पर ढिकौली निवासी युद्धवीर सिंह पुत्र अनूप सिंह द्वारा 03 अज्ञात व्यक्तियों के साथ गन्ना समिति कार्यालय में आकर कुछ बाण्डों पर फर्जी तरीके से पेड़ी गन्ना क्षेत्रफल दर्ज कराने हेतु दबाव बनाया गया।
 
सुनील कुमार द्वारा शासकीय नियमों के विरूद्ध कार्य करने से मना करने पर युद्धवीर सिंह एवं उनके साथ आये 03 अज्ञात व्यक्तियों द्वारा सुनील कुमार के साथ मारपीट करते हुए गाली-गलौच की गयी और जान से मारने की धमकी देते हुए सरकारी अभिलेखों को फाड़ दिया गया। इस प्रकरण का संज्ञान लेते हुए प्रदेश के आयुक्त, गन्ना एवं चीनी भूसरेड्डी द्वारा जिला गन्ना अधिकारी, बागपत को दोषियों के विरूद्ध त्वरित कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया
 
जिसपर युद्धवीर सिंह निवासी ग्राम ढिकौली एवं अन्य 03 अज्ञात व्यक्तियों के विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता 1860 अधिनियम की धारा 323, 332, 336, 427, 504, 506 के तहत कोतवाली जनपद बागपत में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है, तथा दोषी कृषकों के बाण्ड बंद करते हुए समिति सदस्यता समाप्त करने की कार्यवाही की जा रही है। इस सम्बन्ध में प्रदेश के गन्ना आयुक्त का स्पष्ट कहना है कि गन्ना विकास विभाग में कार्यरत अधिकारी एवं कार्मिक निर्भीक होकर अपने दायित्यों का निर्वहन करें, किसी भी अराजक तत्व अथवा गन्ना माफिया को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Popular posts from this blog

स्वस्थ जीवन मंत्र : चैते गुड़ बैसाखे तेल, जेठ में पंथ आषाढ़ में बेल

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आॅनलाईन ट्रांसफर सिस्टम विकसित किये जाने की प्रगति की समीक्षा बैठक की गई संपन्न

एकेटीयू में ऑफलाइन परीक्षा को ऑनलाइन कराए जाने के संबंध में कुलपति को सौंपा गया ज्ञापन